जागेश्वर के बाद अब 7000 फीट की ऊंचाई पर यहां नजर आया बाघ, वन विभाग ने जारी किया अलर्ट

खबर शेयर करें -

बीते दिनों छह हजार फीट की ऊंचाई पर बाघ देखे जाने के बाद वन विभाग के साथ ही हर कोई हैरान था। इतने ठंडे इलाके में बाघ के देखे जाने को वन विभाग नामुमकिन बता रहा था। लेकिन घटना के तीन बाद ही एक बार फिर बाघ नजर आया है। अबकी बार बाघ सात हजार फीट की ऊंचाई पर नजर आया है।

सात हजार फीट की ऊंचाई पर नजर आया बाघ
जागेश्वर के शौकियाथल में छह हजार फुट की ऊंचाई पर बाघ नजर आने के ठीक तीन दिन बाद सात हजार फुट की ऊंचाई पर स्थित अल्मोड़ा जिले के बिनसर में फिर बाघ दिखा है। बिनसर में बाघ की चहलकदमी को डीएफओ ने खुद अपने कैमरे में कैद किया है। जिसके बाद ये साफ हो गया है कि क्षेत्र में बाघ सक्रिय है।

यह भी पढ़ें -  किसान की संदिग्ध हालत में मौत, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

इतनी ठंड वाले इलाके में बाघ की सक्रियता से वन विभाग हैरान
पहली बार प्रदेश में बाघ की इतनी ठंड वाले इलाके में सक्रियता से वन विभाग हैरान है। बता दें कि तीन दिन पहले अल्मोड़ा जिले के जागेश्वर के शौकियाथल क्षेत्र में बाघनजर आया था। जिसका वीडियो भी स्थानीय युवकों ने बनाया था। लेकिन तब वन विभाग यहां बाघ होने की बात को नामुमकिन बता रहा था। लेकिन एक बार फिर से बिनसर में बाघ नजर आया है। जिसके बाद से विभाग हैरत में पड़ गया है।

यह भी पढ़ें -  शिक्षकों की पदोन्नति के लिए हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करेगा शिक्षा विभाग

वन विभाग ने जारी किया अलर्ट
जहां एक ओर बाघ की सक्रियता से वन विभाग हैरान है तो वहीं दूसरी ओर स्थानीय लोगों में डर का माहौल है। वन विभाग ने एतियात बरतते हुए जागेश्वर, कनारीछीना, बिनसर, ताकुला क्षेत्र के 20 से अधिक गांवों में लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अलर्ट जारी कर दिया है। हालांकि विभाग का कहना है कि जागेश्वर और बिनसर में नजर आने वाला बाघ एक ही है।

Advertisement