नगर आयुक्त के साथ बदतमीजी, गुस्साए सफाई कर्मचारियों ने किया काम ठप, cm ने दिए जांच के आदेश

खबर शेयर करें -



नगर आयुक्त के साथ बीजेपी विधायक की बदतमीजी मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। गुस्साए कर्मचारियों ने आज नगर निगम के सभी अनुभागों में ताला लगा कर प्रदर्शन काटा। मामला बढ़ता देख मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इसका संज्ञान लेते हुए मामले में जांच बैठा दी है।


बता दें बीते मंगलवार को सल्ट विधायक महेश जीना ने बेटे को टेंडर ना मिलने पर नगर आयुक्त गौरव कुमार के दफ्तर में घुस कर उनके साथ बदतमीजी की। जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। सल्ट विधायक की ओर से किए गए अभद्र व्यवहार का विरोध करते हुए आज सभी कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया।

यह भी पढ़ें -  ईंट भट्ठे पर मजदूरों को बंधक बनाए जाने पर नैनीताल हाईकोर्ट सख्त, गृह सचिव से जवाब तलब

हड़ताल पर बैठे कर्मचारी
वहीं सफाई कर्मचारियों ने आज शहरभर में डोर टू डोर कूड़ा उठान और शहर की साफ सफाई का काम ठप कर दिया। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि जब तक विधायक महेश जीना की गिरफ्तारी नही होती है तब तक वह काम पर नहीं लौटेंगे। बता दें सहस्त्रधारा रोड पर ट्रेचिंग ग्राउंड में पुराना कूड़ा निस्तारण को लेकर टेंडर निकले थे। बेटे टेंडर ना मिलने पर विधायक जीना ने नगर आयुक्त के दफ्तर में घुसकर बदतमीजी की थी।

यह भी पढ़ें -  जॉर्ज एवरेस्ट में प्रवेश शुल्क पर भड़के स्थानीय लोग, SDM ने बैठक में लिया ये फैसला

सीएम ने लिया मामले का संज्ञान
मामला बढ़ता देख मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इसका संज्ञान लिया है। मुख्यमंत्री धामी ने गढ़वाल कमिश्नर विनय शंकर पांडेय को मामले की जांच सौंपी है

Advertisement