होमस्टे में युवती की संदिग्ध मौत पर भड़का आक्रोश, हंगामा

खबर शेयर करें -

शुक्रवार को उत्तरकाशी के संगमचट्टी के कफलों में स्थित एक होम स्टै में युवती की संदिग्ध मौत का मामला तूल पकड़ गया है। बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने होट स्टे पहुंच हंगामा किया। वहां कार्यरत कार्मिक के साथ भी मारपीट के प्रयास हुए। जिसे किसी तरह पुलिस द्वारा बचा लिया गया।उल्लेखनीय है कि उत्तरकाशी के रहने वाले एक व्यक्ति का संगमचट्टी के कफनौल गांव में होमस्टे है। जिसमें भंकोली गांव निवासी अमृता रावत (18 साल) विगत एक वर्ष से कार्यरत थी।शुक्रवार सुबह करीब 08 बजे लड़की की लाश होमस्टे के उसी कक्ष में लटकी मिली, जिसमें वह रहती थी। सूचना मिलने पर मनेरी कोतवाली से एसएसआई राजेश कुमार पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंच गये।

इस बीच बड़ी संख्या में ग्रामीण भी मौके पर आ गये। जिन्होंने जमकर हंगामा काटा। आरोप है कि होमस्टे मालिक व उसके नौकर ने युवती की मौत की सूचना उसके परिजनों को नहीं दी। जिससे ग्रामीण काफी भड़के थे।इधर पुलिस ने होमस्टे के मालिक व नौकर को हिरासत में ले लिया है। ग्रामीणों ने नौकर पर हमले का भी प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने उसे बचा लिया। इधर कुछ लोग इसे उत्तराखंड के चर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड के समान अपराध के रूप में भी जोड़ रहे हैं। हालांकि मामले को लेकर आधिकारिक बयान का इंतजार है।

यह भी पढ़ें -  धीराज सिह गर्ब्याल  के निदेशों के क्रम  मे विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2022 की मतों की गणना आगामी 10 मार्च को चुनाव आयोग द्वारा निर्धारित की

गहन जांच कर रहे हैं, साक्ष्यों के आधार पर कार्रवाई होगी — सीओ
इधर इस मामले में सीओ उत्तरकाशी अनुज कुमार का कहना है कि प्रतीक होता है कि मौत फंदे पर लटकने से हुई है। हालांकि विस्तृत जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा। डॉक्टरों के पैनल द्वारा जांच होगी, वीडियोग्राफी के साथ पोस्टमार्टम कराया जाएगा। सभी सीसीटीवी कैमरोें व डीवीआर को कब्जे में ले लिया गया है। साक्ष्य जो भी सामने आयें कार्रवाई होगी।

Advertisement