भ्रष्टाचार के विरुद्ध कुमाऊँ-गड़वाल के संगठनों का संगम : उत्तराखंड युवा एकता मंच ने किया उत्तराखंड बेरोजगार संघ में विलय का ऐलान।

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी।

कुमाऊं में लंबे समय से युवाओं की आवाज बुलंद कर रहे उत्तराखंड युवा एकता मंच के संयोजको ने संयुक्त रूप में निर्णय लिया है कि वर्तमान परिस्थितियों में जहां प्रदेश में भ्रष्टाचारी व प्रदेश विरोधी ताकते संगठित हो रही हैं व लगातार नकल माफिया जमानत पर बाहर आ रहे हैं,ऐसे में कुमाऊँ व गढ़वाल के सभी युवा आंदोलनकारियों को एकजुट होने की आवश्यकता है व संगठित होकर एक सुर में आंदोलन करने की आवश्यकता है।


ऐसे में प्रदेश का हित चाहने वाले सभी संगठनों का एक मंच, एक बैनर तले आना बेहद आवश्यक है ।
इसी के तहत सोमवार को एक निजी प्रतिष्ठान में हुई बैठक में युवा एकता मंच के संयोजकों ने यह घोषणा की अब उत्तराखंड युवा एकता मंच के कुमाऊं भर के लगभग 3000 से अधिक सदस्य उत्तराखंड बेरोजगार संघ की सदस्यता लेंगे व प्रदेश विरोधी ताकतों को आगाह करते हुए खुले शब्दों में कहां की भ्रष्टाचार के विरुद्ध अब कुमाऊँ व गढ़वाल से संयुक्त रूप में आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी।
इस दौरान उत्तराखंड युवा एकता मंच के संयोजक पीयूष जोशी ,संयोजक भूपेंद्र कोरंगा ,संयोजक कार्तिक उपाध्याय ,राहुल पंत आदि लोग मौजूद थे।

यह भी पढ़ें -  मुज्जफरनगर में हुआ भीषण सड़क हादसा , कार में सवार छह दोस्तों की दर्दनाक मौत

बॉक्स:

भ्रष्टाचार के विरुद्ध प्रदेश में युवाओं को संगठित करने के लिए विभिन्न संगठन भूमिका निभा रहा है ऐसे में हम सभी ने एकमत होकर युवाओ की लड़ाई को मजबूत करने व प्रदेश विरोधी ताकतों के विरुद्ध संगठित लड़ाई लड़ने का निर्णय लिया है ,जल्द बेरोजगार संघ के साथियों के साथ बैठक कर आगे की रणनीति तय की जाएगी व व्यापक सदस्यता अभियान चलाकर युवाओ को भ्रस्टाचार के विरुद्ध एकजुट किया जाएगा।
-पीयूष जोशी
संयोजक
उत्तराखंड युवा एकता मंच

यह भी पढ़ें -  एप और क्रेडिट कार्ड माफियाओं ने ली मनीष तिवारी की जान

बॉक्स:
वर्तमान परिस्थितियों में उत्तराखंड बेरोजगार संघ से हमारी विचारधारा पूर्ण रूप में समानांतर है व प्रदेश हित में वर्तमान में बेरोजगार संघ के साथ मिलकर कार्य करने में प्रदेश की भलाई दिखाई दे रही है ।
इसलिए युवाओं के हितो की लड़ाई को मजबूती से लडने हेतु बेरोजगार संघ के साथ जुड़ रहे हैं।

  • भूपेंद्र कोरंगा
    संयोजक
    उत्तराखंड युवा एकता मंच। बॉक्स :
    राज्य में न सिर्फ व्यापक भ्रष्टाचार की खुली किताब लिखी जा चुकी है तो वही भ्रष्टाचार उजागर करने की भी किताब प्रत्यक्ष रूप खुल चुकी है। उत्तराखंड बेरोजगार संघ एवं उत्तराखंड युवा एकता मंच दोनों संगठनों के द्वारा कुमाऊं और गढ़वाल से आंदोलनरथ हैं ।
    अब जरूरत है संगठित होकर लड़ी जाए ,इसलिए इस आंदोलन में कुमाऊं गढ़वाल एक होकर भ्रष्टाचार को उखाड़ने का इंकलाब लिखेंगे ।
  • युवा पहाड़ी कार्तिक उपाध्याय
    संयोजक
    उत्तराखंड युवा एकता मंच
यह भी पढ़ें -  पिया मिलन की राह हुई कठिन, गुरु ने अटकाया रोड़ा

बॉक्स :
कुमाऊं से हम लोग निरंतर बेरोजगार युवाओं की लड़ाई लड़ रहे थे अब बेरोजगारों की लड़ाई बेरोजगार संघ के साथ मिलकर व्यापक स्तर पर लड़ी जाएगी वह इसके लिए जो संभव होगा वह किया जाएगा ।
-राहुल पन्त
संयोजक
उत्तराखंड युवा एकता मंच

Advertisement