प्रेमिका को प्रेमी ने गला रेत कर उतारा मौत के घाट आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

खबर शेयर करें -

फूलपुर के अगरापट्टी गांव में शादी का दबाव बनाने से नाराज प्रेमी ने प्रीति सिंह (16) की गला रेतकर हत्या कर दी। योजना के तहत किशोरी को बुलाकर आरोपी दिन भर उसके साथ घूमता रहा और रात में वारदात को अंजाम देकर भाग निकला। पुलिस ने शनिवार सुबह शव मिलने के कुछ घंटों बाद ही खुलासा कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।किशोरी फूलपुर के मैलहन आजाद नगर मोहल्ले की रहने वाले सुखराम सिंह की बेटी थी। 16 अगस्त को दिन में वह लापता हो गई। परिजनों ने खोजबीन की, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। शनिवार को उसका शव अगरापट्टी गांव स्थित धान के खेत में क्षत-विक्षत हाल में मिला। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल की तो उसके गले पर गहरा जख्म था। इससे पता चला कि गला रेतकर उसकी हत्या की गई थी। जानकारी पर डीसीपी गंगानगर अभिषेक भारती व एसीपी फूलपुर मनोज सिंह भी पहुंच गए।यह भी पढ़ें 👉 डिजिटल लेनदेन को लेकर एक बैठक का हुआ आयोजन।दोनों अफसरों ने खुद परिजनों से पूछताछ की। इस दौरान किशोरी के दूर के रिश्तेदार धनंजय सिंह का नाम सामने आया। वह पड़ोस के ही अरवासी मय बहादुरगढ़ गांव का रहने वाला है। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो वह पहले अनजान बनता रहा। हालांकि, कड़ाई से पूछताछ करने पर वह टूट गया और हकीकत बयां की।पुलिस की पूछताछ में धनंजय ने बताया कि दूर का रिश्तेदार होने के कारण उसका मृतका के घर आना-जाना था। इसी दौरान दोनों में प्रेम संबंध हो गए। वह गुजरात में रहकर नौकरी करता था, लेकिन कुछ महीने पहले ही घर चला आया था।यह भी पढ़ें 👉 ट्रैक्टर दुर्घटना में चालक की मौत, एक व्यक्ति घायल।प्रीति लगातार उस पर शादी का दबाव बना रही थी। वह नाबालिग थी और वह यह भी जानता था कि उसके घरवाले इस रिश्ते के लिए कभी राजी नहीं होंगे। उधर, प्रीति यह भी धमकी दे रही थी कि शादी न करने पर वह जान दे देगी। इससे परेशान होकर उसने प्रीति को खत्म करने की योजना बनाई।पुलिस के मुताबिक, आरोपी ने पूछताछ में बताया कि योजना के मुताबिक उसने 16 अगस्त को प्रीति को अपने घर से कुछ दूर पर सुनसान में स्थित ताल के पास बुलाया और फिर दिन भर उसके साथ वहीं घूमता रहा। शाम को पास ही स्थित धान के खेत में ले गया और कहा कि वह उसकी गोद में सो जाए।यह भी पढ़ें 👉 भीमताल में एक बिजली के पोल से करंट लगने से शिक्षक की हूई दुर्भाग्यपूर्ण मौत।जैसे ही किशोरी ने आंख बंद की, उसने एक हाथ से उसका मुंह दबाया और दूसरे हाथ से उसका गला रेतकर हत्या कर दी। फिर शव को वहीं छोड़कर भाग निकला। 17 अगस्त की सुबह वह फिर मौके पर गया और शव वहीं पड़ा देखकर वापस चला आया।परिजनों ने एक दिन पहले ही आरोपी पर शक जताया था। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त चाकू भी बरामद कर लिया गया है।

Advertisement
यह भी पढ़ें -  प्रदेश के तीनों ऊर्जा निगमों के प्रस्तावों से बिजली दरों में 30 फीसदी तक बढ़ोतरी, एक अप्रैल से होंगी लागू