यहां भूस्खलन की चपेट में आने से 3 बच्चे मलवे में दब गए 2 की मौत, एक घायल

खबर शेयर करें -

रुद्रप्रयाग। बुधवार सुबह गौरीकुंड में एक बार फिर से भूस्खलन हुआ है और इसमें दो बच्चों की मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक इस भूस्खलन की चपेट में तीन नेपाली मूल के बच्चे आए थे, जिन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। अस्पताल में डॉक्टरों में दो बच्चों को मृत घोषित कर दिया, जबकि एक का इलाज जारी है। गौरीकुंड में पांच दिन के भीतर भूस्खलन की यह दूसरी घटना है।

रुद्रप्रयाग जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदन सिंह रजवार ने अवगत कराया कि बुधवार सुबह गौरीकुंड के गौरी गांव में भूस्खलन हुआ। नेपाली मूल के तीन बच्चे भूस्खलन की चपेट में आने से दब गए। तीनों बच्चों को स्थानीय पुलिस, एनडीआरएफ व स्थानीय लोगों की मदद से गौरीकुंड हॉस्पिटल में उपचार हेतु लाया गया। जहां दो बचो को डॉक्टर द्वारा मृत घोषित किया गया एक बचे का उपचार किया जा रहा है।
बच्चों का पिता सत्यराज अपने गांव नेपाल जा रखा है। जबकि माता जानकी बच्चों के साथ ही डेरे में सो रही थी। जानकी मलवे आने के बाद डेरे से बाहर सकुशल निकल आई थी जबकि बच्चे मलबे में दबे रह गए थे।

Advertisement
यह भी पढ़ें -  सड़क हादसे में दो लोगों की मौत