शुद्धिकरण के बाद ब्रह्म मुहूर्त में खुले चारों धामों के कपाट, सूतक के चलते बंद कर दिए गए थे कपाट

खबर शेयर करें -

शनिवार को चंद्रग्रहण के चलते चारों धामों के कपाट बंद कर दिए गए थे। शुद्धिकरण के बाद चंद्रग्रहण के बाद आज सुबह 4.30 बजे ब्रह्म मुहूर्त में चारों धामों के कपाट खोल दिए गए हैं।

.
शुद्धिकरण के बाद ब्रह्म मुहूर्त में खुले चारों धामों के कपाट
चंद्रग्रहण के बाद शुद्धिकरण करने के बाद चारों धामों के कपाट सुबह 4.30 बजे ब्रह्म मुहूर्त में खोल दिए गए हैं। श्रद्धालुओं ने कपाट खुलने के बाद दर्शन किए। मिली जानकारी के मुताबिक चारों धामों में और बद्रीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के अंदर आने वाले मंदिरों में दैनिक पूजा शुरू हो गई है।

यह भी पढ़ें -  मात्र 14 दिन में नई नवेली दुल्हन कोरोना से हो गयी विधवा

यमुनोत्री धाम में श्रद्धालुओं ने किए मां यमुना के दर्शन
ब्रह्म मुहूर्त में शुद्धिकरण के बाज यमुनोत्री धाम के कपाट भी खोल दिए गए। धाम में श्रद्धालुओं ने मां यमुना के दर्शन किए। बता दें कि शनिवार को इस साल का आखिरी चंद्र ग्रहण देखा गया ये आंशिक चंद्र ग्रहण था। चंद्रग्रहण की शुरूआत शुरुआत रात 1:05 बजे से हुई और 2:24 बजे तक दिखाई दिया।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में शराब की नई नीति को मंजूरी

सबसे पहले महाराष्ट्र और आखिर में गुजरात दिखा चंद्रग्रहण

.
आपको बता दें कि चंद्रग्रहण को दुनिया के अलग-अलग देशों में देखा गया। भारत में भी चंद्रग्रहण दिखा। चंद्रग्रहण सबसे पहले महाराष्ट्र के चेंबूर में नजर आया और सबसे आखिर में गुजरात के राजकोट चंद्रग्रहण देखा गया। चारों धामों के कपाट सूतक के चलते चार बजे बंद कर दिए गए।

Advertisement