महासंघ उपाध्यक्ष की आत्मदाह की धमकी के बाद सहमा प्रशासन महासंघ उपाध्यक्ष सहित दर्जन भर छात्र नेताओं ने कुलपति के समक्ष रखी समस्या,परीक्षा पीछे करने व तत्काल पूरा सिलेबस परीक्षा से पहले पूर्ण करने,समर्थ पोर्टल की दिक्तो को दूर करने व लेट फीस माफ करने के निर्देश

खबर शेयर करें -

महासंघ उपाध्यक्ष की आत्मदाह की धमकी के बाद सहमा प्रशासन महासंघ उपाध्यक्ष सहित दर्जन भर छात्र नेताओं ने कुलपति के समक्ष रखी समस्या,परीक्षा पीछे करने व तत्काल पूरा सिलेबस परीक्षा से पहले पूर्ण करने,समर्थ पोर्टल की दिक्तो को दूर करने व लेट फीस माफ करने के निर्देश।

नैनीताल।

कल छात्र हितों को लेकर व बिना सिलेबस पूरा करें परीक्षा कराने को लेकर छात्र महासंघ उपाध्यक्ष सचिन फुलारा के नेतृत्व में दर्जन भर छात्र-छात्राओं ने लाल बहादुर शास्त्री महाविद्यालय की छत पर चढ़ आत्मदाह दे डाली ।
सूत्रों के मुताबिक मामले को गंभीरता से लेते हुए आनन-फानन में भाजपा संगठन से लेकर शिक्षा मंत्री तक सभी सक्रिय हो गए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से कुमाऊं विश्विद्यालय के छात्र महासंघ उपाध्यक्ष होने के कारण नाराज महासंघ उपाध्यक्ष को मनाने की

जिम्मेदारी हल्द्वानी के वरिष्ठ भाजपा नेता वीरेंद्र सिंह बिष्ट ने संभाली इसके बाद लाल बहादुर शास्त्री महाविद्यालय के पूर्व छात्रसंघ सचिव पीयूष जोशी से भी संपर्क कर छात्र-छात्राओ की मांगों को जानकर आज विश्विधालय में कुलपति के साथ तत्काल वार्ता की व्यवस्था की गई, जिसमें पूर्व महासंघ अध्यक्ष दीपक मेलकानी, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मोहित रौतेला के साथ कई विद्यार्थी परिषद के नेता भाजपा व अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की साख बचाने मैदान में कूद गए ।
कुलपति से वार्ता के दौरान लाल बहादुर शास्त्री राजकीय महाविद्यालय के छात्र संघ अध्यक्ष कार्तिक रजवार व महासंघ उपाध्यक्ष सचिन फुलारा द्वारा महाविद्यालय में प्राध्यापको के द्वारा पढ़ाई न कराए जाने व बिना सिलेबस परीक्षा की बात को रखा जिस पर कुलपति महोदय ने बीच का रास्ता निकालते हुए परीक्षा स्थगित करने व महाविद्यालय के प्राचार्य व प्रवक्ताओं को तत्काल एक्स्ट्रा क्लास लगाकर छात्रों का सिलेबस पूर्ण करने के निर्देश दिए ।
साथ ही कुलपति ने यह भी आश्वस्त किया कि महाविद्यालय में अध्यापकों के ना पड़ाने पर वह व्यक्तिगत संज्ञान लेकर जल्द आवश्यक कार्यवाही भी करेंगे व निदेशालय के साथ-साथ महाविद्यालय को भी पत्र लिखेंगे, समर्थ पोर्टल के संबंध में समस्या पर तत्काल परीक्षा नियंत्रक व सामर्थ पोर्टल प्रभारी को समस्या के निस्तारण के निर्देश दिए, साथ ही परीक्षा फॉर्म भरने में हुई देरी मैं विश्वविद्यालय की हुई गलती के कारण हुई देरी में लगने वाली लेट फीस को भी कुलपति ने माफ करने के निर्देश दिए ।
इस दौरान वार्ता में कुलपति महोदय ने कहा कि परीक्षा की तिथि के लिए उन्हें शासन से निर्देश आए हैं मगर व्यापक छात्र हितों को देखते हुए परीक्षा की तिथि आगे बढ़ाई जा सकती है जिसके लिए वह उच्च शिक्षा मंत्री के साथ व शासन से तत्काल वार्ता कर कोई ना कोई बीच का रास्ता निकालेंगे ,जिससे छात्रों की समस्या दूर की जा सके ।
इसके अलावा कुलपति महोदय का यह भी कहना था कि पहले ही सिलेबस में 30% घटाया जा चुका है इसके साथ-साथ सिलेबस में कुछ और कटौती कर जितना सिलेबस महाविद्यालय के प्रवक्ता आगामी दिनों में पढ़ने में सक्षम होंगे केवल उतने ही सिलेबस आगामी परीक्षाओं में आएगा।
कल आत्मदगी चेतावनी के बाद प्रशासन पूरा प्रशासन हरकत में दिखा व कई पुलिस कर्मी छात्र नेताओं व विश्वविद्यालय प्रशासन के बीच मध्यस्थता के बीच मौजूद रहा जिससे कोई अप्रिय घटना ना हो सके।
इस दौरान छात्र महासंघ उपाध्यक्ष सचिन फुलारा,लाल बहादुर शास्त्री राजकीय महाविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष कार्तिक रजवार, छात्रनेता पीयूष जोशी, छात्र संघ कोषाध्यक्ष संदीप सिंह ,छात्रसंघ कोषाध्यक्ष प्रत्याशी अमित सिंह, छात्र नेता विनीत कबडाल, छात्रसंघ उपाध्यक्ष प्रत्याशी करण दुमका ,पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मोहित रौतेला,पूर्व महासंघ अध्यक्ष दीपक मेलकानी आदि लोग मौजूद रहे।

Advertisement
यह भी पढ़ें -  पंखुड़ियाँ-2023 (सीजन-13 सांस्कृतिक महोत्सव व राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का ग्रैंड फिनाले 24 व 25 दिसंबर को आदर्श प्राथमिक पाठशाला(श्रीरामलीला मैदान) मेन चौराहा हल्दूचौड़ में प्रातः 10 बजे से होगा।