उत्तराखंड के राशन कार्ड धारकों के लिए जरूरी खबर, केंद्र के नए नियम हुए लागू, ये काम करना हुआ बहुत जरूरी

खबर शेयर करें -

उत्तराखंड में राशन कार्ड धारकों के लिए केंद्र सरकार ने अब एक कड़ी चेतावनी जारी की है। अब बिना बायोमेट्रिक के आपको राशन नहीं मिलेगा। केंद्र सरकार ने बताया है कि वह सभी राशन कार्ड धारक जिन्होंने अपने Ration card biometric system Link नहीं कराया है। उन्हें अब से फ्री में गेहूं चावल नहीं मिलेगा।

केंद्र सरकार के तहत अब इस ओर काफी सख्त से सख्त रुख अपना लिया है और उत्तराखंड के खाद्य विभाग को अक्टूबर माह से प्रदेश में बायोमेट्रिक प्रणाली लागू करने के निर्देश दे दिए गए हैं। राशन कार्ड धारकों को फ्री राशन पाने को आपको Ration card biometric Link करना जरूरी है।

यह भी पढ़ें -  शाकंभरी देवी भक्तों की सारी मनोकामनाएं करती है पूरी


नए नियम के तहत केंद्र सरकार ने बताया है कि अब बायोमैट्रिक पहचान करने वाले राशन कार्ड धारकों को ही Free Ration उपलब्ध कराया जाएगा। हालांकि केंद्र सरकार ने कहा है कि नेटवर्क रहित क्षेत्र में अब भी नॉर्मल तरीके से ही राशन उपलब्ध कराया जाएगा। क्योंकि कई ऐसे क्षेत्र है जहां इंटरनेट अभी भी काम नहीं करता है। ऐसे में इन क्षेत्रों में उपभोक्ताओं को फिलहाल बायोमेट्रिक प्रणाली से गुजरने की आवश्यकता नहीं होगी ।

यह भी पढ़ें -  कड़ी सुरक्षा के बीच पाकिस्तान से पिरान कलियर पहुंचे 107 जायरीन, 755वें उर्स में होंगे शामिल


परंतु यदि किसी क्षेत्र में इंटरनेट काम करता है तो खाद्य विभाग को चेतावनी दी गई है कि प्रत्येक राशन वितरण केंद्र में बायोमेट्रिक प्रणाली जोड़ी जाए और प्रत्येक उपभोक्ता को बायोमेट्रिक प्रणाली अपडेट करने के लिए कहा जाए अन्यथा अक्टूबर माह से उन्हें फ्री में गेहूं और चावल नहीं मिलेगा। प्रत्येक व्यक्ति को बायोमेट्रिक प्रणाली से गुजरने के पश्चात ही गेहूं चावल और अन्य राशन उपलब्ध कराया जा रहा था।

यह भी पढ़ें -  नहाते समय डूबा युवक, तलाश जारी


परंतु अब भी ऐसे कई सारे लोग हैं जिन्होंने biometric system Update नहीं कराई है और राशन कार्ड को बायोमेट्रिक मशीन से नहीं जोड़ा है। ऐसे में राशन वितरण में होने वाली धोखाधड़ी को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने यह सख्त कदम उठाया है।

Advertisement