हल्द्वानी : यहां थल सेना से रिटायर्ड फौजी ने राष्ट्रपति से मांगी इच्छा मृत्यु, कारण जान आप भी रह जाएंगे दंग

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी : सेना के सेवानिवृत्त फौजी ने मजबूरी में मकान बेचा और मकान खरीदने वाले मकान के साथ रकम भी हड़प ली। पूर्व फौजी पिछले 24 साल से न्याय ही गुहार लगा है। मध्य प्रदेश और उत्तराखंड सरकार के साथ तमाम अधिकारियों तक शिकायत पहुंचाई, लेकिन न्याय नहीं मिला। अब पूर्व फौजी ने राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु की मांग की है।

पार्वतीय इंक्लेव बिठौरिया नंबर एक निवासी विक्रम सिंह भैसोड़ा ने बताया कि उन्होंने थल सेना में 1980 से लेकर 1998 तक सेवा दी। जम्मू-कश्मीर, राजस्थान, गुजरात, झांसी और उत्तर प्रदेश की सेवा से मिले मेहनताने से उन्होंने मंडलावदा धार मध्य प्रदेश में घर बनाया, लेकिन बेटी के विवाह और पारिवारिक मजबूरी के कारण मकान बेचना पड़ा।

यह भी पढ़ें -  जनपद सृजन की रजत जयंती समारोह (25वीं वर्षगाठ) के अवसर पर ऐतिहासिक नुमार्इशखेत मैदान में मुख्य कार्यक्रम आयोजित किये

मकान उन्होंने पीगडमबर इंदौर निवासी मदन सिंह चौहान पुत्र राम सिंह चौहान को वर्ष 1999 में बेचा। सौदा ढाई लाख में हुआ, लेकिन मदन ने सिर्फ 60 हजार रुपये दिए और वो भी नकली दस्तावेजों के साथ। बाकी का पैसा आज तक नहीं मिला। जबकि इस मकान की कीमत अब करोड़ों में है।

आरोपी ने उन्हें मारपीट कर भगा दिया। विक्रम ने मध्यप्रदेश के एसपी, जिलाधिकारी, सीएम हेल्पलाइन के साथ मुख्यमंत्री उत्तराखंड से भी गुहार लगाई। फिर राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु मांगी।

Advertisement