नवंबर में तापमान ने तोड़ा बीते सालों का रिकॉर्ड,1952 के बाद दूसरी बार हुआ ऐसा

खबर शेयर करें -

नवंबर का महीना शुरू हो गया है। लेकिन इस बार मौसम का मिजाज बदला हुआ है। राजधानी देहरादून में नवंबर में तापमान ने बीते कुछ सालों का रिकॉर्ड तोड़ा है। जी हां बता दें राजधानी देहरादून में कल यानी एक नवंबर को अधिकतम तापमान दर्ज किया गया।

.

मौसम विभाग के अनुसार एक नवंबर को राजधानी देहरादून में तापमान 31.0 सेल्सियस था। जो की दूसरा उच्चतम तापमान है। इससे पहले 2016 में दो नवंबर को 31.2 सेल्सियस दर्ज किया गया था।

यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी में यहां के लोग आखिर किन लोगों से परेशान होकर पहुँचे पुलिस के पास


बता दें इससे 1952 में एक नवंबर को 30.6 सेल्सियस तापमान रहा था। जो अभी तक का सबसे अधिक गर्म दिन था। 1952 के बाद ऐसा दूसरी बार हुआ है।

ये बताई वजह
हालांकि मौसम विभाग ने देश के विभिन्न क्षेत्रों में नवंबर के लिए मौसम की भविष्यवाणी पहले ही कर दी थी। मौसम विभाग ने इसका कारण अल नीनो के प्रभाव को बताया है। जिसके कारण देश के कई हिस्सों का तापमान नवंबर में सामान्य से अधिक गर्म रहेगा। मृत्युंजय महापात्र ने बताया कि नवंबर में पूरे देश में लंबी अवधि के औसत का लगभग 77 से 123 प्रतिशत के बीच बारिश हो सकती है।

यह भी पढ़ें -  नाबालिक के साथ किया दुष्कर्म.पुलिस ने पकड़ा तो निकला बच्चा चोर भी. दो अपहरण बच्चे भी पुलिस ने किये बरामद .यूपी का है दुष्कर्मी

.
दक्षिण के कुछ इलाकों, उत्तर-पश्चिम के अधिकांश हिस्सों और पूर्व-मध्य, पूर्व एवं उत्तर-पूर्व के कई हिस्सों में सामान्य से अधिक बारिश हो सकती है। प्रशांत और हिंद महासागरों पर समुद्र की सतह के तापमान की स्थितियों में बदलाव से भी भारतीय प्रायद्वीप का जलवायु प्रभावित होता है। इसलिए इन महासागर बेसिनों पर समुद्र की सतह की स्थितियों के विकास की सतत निगरानी की जाती है।

Advertisement