कैलाश खेर और कन्हैया मित्तल के राम भजनों पर झूमे लोग, वातावरण हुआ राममय

खबर शेयर करें -

राजधानी देहरादून के रेसकोर्स बन्नू स्कूल में आयोजित राम राग एक संध्या राम के नाम, भजन संध्या में राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) और सीएम धामी शामिल हुए। उन्होंने पद्म श्री कैलाश खेर और कन्हैया मित्तल को सम्मानित करते हुए कहा कि कैलाश खेर और कन्हैया मित्तल अपने भजनों के माध्यम से दुनिया में अपना नाम रोशन कर रहे हैं।

भजनों से पूरा वातावरण हुआ राममय
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि कैलाश खेर के भजन भाव विभोर करने के साथ दिल को छू जाने का काम करते हैं। दोनों गायकों के राम भजनों से पूरा वातावरण राममय हो गया। इसके साथ ही बड़ी संख्या में उपस्थित लोग पूरी तन्मयता से श्री राम की भक्ति में सराबोर नजर आए।

यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी ब्लॉक प्रमुख रूपा देवी भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुई -पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने ब्लाक प्रमुख समेत 4 बीडीसी सदस्यों को दिलाई कांग्रेस की सदस्यता

प्रभु श्रीराम हैं हमारे आदर्श
संस्कृति विभाग द्वारा आयोजित इस भजन संध्या में पद्म श्री कैलाश खेर और कन्हैया मित्तल ने कहा कि प्रभु श्रीराम हमारे आदर्श हैं जिनकी सभी लीलाएं मानव जीवन में अनुकरणीय हैं। सच्चिदानंद स्वरूप होते हुए भी मानव जीवन में हमारे और आपके लिए वे अवतरित हुए, क्योंकि उन्हें समाज को “अच्छे मनुष्य बनो और अच्छे मनुष्य बनाओ“ का संदेश देना था।

यह भी पढ़ें -  इस इलाके में जंगली हाथियों का फैला आतंक

गायकों ने की पीएम मोदी की तारीफ
दोनों गायकों ने कहा कि 22 जनवरी को रामलला अयोध्या में विराजमान होने जा रहे हैं और ये ऐसा अवसर है जिसके लिए हमने वर्षों इंतजार किया है। हमें भी निमंत्रण मिला कि हम इस ऐतिहासिक पल के साक्षी बनें। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी की भी जमकर तारीफ की।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने इसे एक ऐतिहासिक क्षण करार दिया। उन्होंने कहा पूरे देश में उमंग उल्लास और उत्साह का माहौल है। देवभूमि उत्तराखंड में भी प्रत्येक नागरिक उस ऐतिहासिक पल का इंतजार कर रहा है जब भगवान श्री राम वर्षों बाद पुनः अयोध्या में विराजमान होंगे।

Advertisement