हिमाचल से आई घपले-घोटालों की पौध, सदन में उठा भ्रष्टाचार का मुद्दा

खबर शेयर करें -



उत्तराखंड विधानसभा सत्र की कार्यवाही चल रही है। विधायक अपने सवाल पूछ रहे हैं। इसी बीच नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने सदन में घपले, घोटाले और भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया है। उन्होंने कहा है कि सरकार हिमाचल प्रदेश से घपले-घोटालों की पौंध लेकर आई है।


घपले-घोटाले व भ्रष्टाचार के मुद्दे पर सदन में चर्चा हुई नियम 58 में चर्चा की गई। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने सदन में भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि हर विभाग में घपला-घोटाला और भ्रष्टाचार हो रहा है। उन्होंने कहा कि उद्यान विभाग में ही घपलों की लंबी लिस्ट है।

यह भी पढ़ें -  जिलाधिकारी वंदना की अध्यक्षता में गुरूवार को कैम्प कार्यालय हल्द्वानी में जनसुुनवाई आयोजित हुई

सरकार हिमाचल से लेकर आई घपले-घोटालों की पौंध
नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि सरकार घपले और घोटालों की पौंध हिमाचल से लेकर आई है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि युवा दीपक कगरेती ने लम्बी लड़ाई लड़ी है। उच्च न्यायालय ने कनिका ट्रेडर्स का भुगतान रोकने के आदेश दिए थे। लेकिन विभाग ने कोर्ट के नियमों को ठेंगा दिखाकर भुगतान कर दिया। जिसके बाद हाईकोर्ट ने इस मामले में सीबीआई जांच के आदेश दिए।

यह भी पढ़ें -  पिथौरागढ़ में देवर के प्यार में पागल महिला षड्यंत्र रच पति को मारने की कोशिश पत्नी सहित तीन गिरफ्तार

सरकार कर रही अधिकारियों को बचाने की कोशिश
नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने कहा कि उद्यान घोटाले में सरकार ने एसआईटी जांच के आदेश दिए थे। लेकिन एसआईटी ने जांच में दोषी पाए गए बावेजा और अन्य के ख़िलाफ़ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार इस मामले में सीबीआई जांच रूकवाना चाहती है। सरकार ने सीबीआई जांच रूकवाने के लिए याचिका दायर की है। सरकार अधिकारियों को बचाने में लगी है

Advertisement