पहाड़ों पर बारिश और बर्फबारी का सिलसिला जारी, मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट

खबर शेयर करें -

साल में दूसरी बार आज रविवार को एक बार फिर पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी हो रही है। मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से जारी पूर्वानुमान के अनुसार, 2500 मीटर व इससे अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश के साथ बर्फबारी के आसार बताए गए थे। जबकि उत्तरकाशी, चमोली और रुद्रप्रयाग के तीन हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में भारी बर्फबारी बताई गई। इन जिलों के लिए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है। अन्य जिलों में बारिश का सिलसिला जारी है।
अपडेट

रुद्रप्रयाग जनपद में निचले इलाकों में बारिश। केदारनाथ सहित अन्य ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी।
टिहरी जिले में रात 2:30 बजे से बारिश जारी। कड़ाके की ठंड।
श्रीनगर में भी हल्की बारिश जारी।
पहाड़ों की रानी मसूरी में बारिश, कोहरा भी छाया, बढ़ी ठंड।
चमोली जिले के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी और निचले हिस्से में हो रही बारिश।
यमुनोत्री धाम सहित आसपास बर्फबारी तो बड़कोट तहसील क्षेत्र में बूंदाबांदी शुरू।
यमुनोत्री हाईवे पर ओरक्षा बैंड राडीटॉप, हनुमान चट्टी जानकीचट्टी क्षेत्र में जोखिमभरी आवाजाही।
खटीमा में बूंदाबांदी
बागेश्वर में बारिश
बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब में बर्फबारी
चमोली में ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। कड़ाके की ठंड से बचने के लिए लोग अपने घरों में दुबके रहे। शनिवार को सुबह चटख धूप खिली, लेकिन दोपहर बाद मौसम ने करवट बदली। निचले क्षेत्रों में आसमान में बादल छ गए, जबकि बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब, फूलों की घाटी, रुद्रनाथ, लाल माटी, नंदा घुंघटी के साथ ही नीती व माणा घाटियों में बर्फबारी शुरू हो गई, जो देर शाम तक भी होती रही।
बारिश के बाद बढ़ी ठंड, अलाव जलाए
कर्णप्रयाग में पिछले दिनों हुई बारिश के बाद कर्णप्रयाग, देवाल, थराली, नारायणबगड़, गैरसैंण, नौटी, नंदासैंण सहित ग्रामीण क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड पड रही है। कपीरी पट्टी के छांतेश्वर महादेव की चोटियों सहित अन्य ऊंचाई वाले भागों में हुए हिमपात के बाद ठंडी हवाएं चल रही है। कर्णप्रयाग में लोग ठंड से बचने के लिए अलाव जला रहे हैं। बस स्टेशन व उमा देवी तिराहे पर पालिका की ओर से अलाव की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा नगर में बस स्टेशन व प्रतीक्षालयों में रह रहे बेसहारा लोग ठंड में रात काटने को मजबूर हैं।
थराली की चोटियों पर फिर से हिमपात, कड़ाके की ठंड बढ़ी
चमोली जिले के थराली में पूरे पिडंर घाटी में शुक्रवार को मौसम साफ रहने के बाद शनिवार दोपहर बाद फिर आसमान बादलों से ढक गया। ठंडी हवाएं चलने और बूंदाबांदी के चलते तापमान अचानक गिर गया जिससे उंचाई वाले क्षेत्रों में फिर से हिमपात शुरू हो गया। वहीं थराली, कुलसारी, चेपड़ों सहित निचली घाटियों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड यहां पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, 1 किलो 300 ग्राम गांजा के साथ महिला गिरफ्तार

तीन दिन में दूसरी बार बर्फबारी हाेने से लोग खुश
थराली में तापमान 5 डिग्री दर्ज किया गया। दस हजार फीट से अधिक उंचाई वाले क्षेत्रों में तीन दिन में दूसरी बार बर्फबारी हाेने से लोग खुश हैं वहीं फिर से बारिश होने से किसानों के चेहरे भी खिले हुये हैं। यह बर्फवारी सेब की पौंधों के लिए अमृत समान मानी जा रही है। कृषि विशेषज्ञ अनिल पंवार ने बताया कि दूसरी बार की बर्फवारी और बारिश से भूमि में नमी की मात्रा बढ़ी है जिससे सूखने के कगार की फसलें और फलों के बढवार में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें -  यहां प्रचार कर रहे वाहन को पुलिस ने किया सीज, खनन व्यवसायियों ने किया कोतवाली का घिराव

दोपहर बाद हुई बारिश से बढ़ी ठंड
नई टिहरी में शनिवार को जिले में दोपहर बाद बारिश हुई, जिससे ठंड बढ़ गई है। पशुपालकों के सामने चारा जुटाने की समस्या पैदा हो गई है। एसडीएम सदर व नई टिहरी/चंबा नगर पालिका प्रशासक संदीप कुमार ने कहा कि ठंड से बचाव के लिए निकाय क्षेत्रों में अलाव की व्यवस्था की गई है। जिला मुख्यालय में नौ और चंबा में दो जगहों पर अलाव जलाए जा रहे हैं। ठंड से बचाव के लिए दो निराश्रित महिलाओं को कंबल दिए गए।

Advertisement