रुद्रपुर : सिपाही ने दूसरे सिपाही पर ईट से किया कातिलाना हमला, कई धाराओं में मुकदमा दर्ज

खबर शेयर करें -



रुद्रपुर, 31वीं वाहिनी पीएसी परिसर में उस वक्त हड़कंप मच गया। जब एक सिपाही ने दूसरे सिपाही पर ईट से कातिलाना हमला शुरू कर दिया। लहूलुहान हालत में सिपाही को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां सिपाही के सिर में सात टांके आने के बाद चिकित्सकों ने छुट्टी दी।

घायल सिपाही की तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने आरोपी सिपाही के खिलाफ हत्या के प्रयास सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें -  लोकसभा चुनाव: सुनीता केजरीवाल के मैदान में उतरने से जगी AAP प्रत्याशियों की आस, बनाई ये रणनीति

जानकारी के अनुसार 31वीं वाहिनी पीएसी में सिपाही अजमेर सिंह और सिपाही दीपक कुमार की तैनाती है और दोनों ही सिपाही वाहिनी की बैरिक में एक साथ ही रहते है। बताया जा रहा है कि सोमवार की शाम साढ़े सात बजे आरोपी सिपाही साथी अजमेर की बाइक बिना बताए ले गया और साढे आठ बजे बाइक को क्षतिग्रस्त करके खड़ी कर दी। जब अजमेर ने इसका विरोध जताया तो दोनों की बीच कहासुनी हो गई और मामला निपट गया। बावजूद इसके सिपाही अजमेर साढ़े नौ बजे करीब अपनी बैरक में जाकर लेट गया।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड-यहां हाईवे पर घुडसिल के पास आया भूस्खलन, यातायात ठप

तभी अचानक आरोपी सिपाही दीपक हाथ में ईंट लेकर आया और बिस्तर पर लेटे सिपाही अजमेर के सिर पर ताबड़तोड़ प्रहार करना शुरू कर दिया। जिससे सिपाही लहूलुहान हो गया और बैरिक में मौजूद पीएसी कर्मियों में हड़कंप मच गया और आरोपी सिपाही मौके से फरार हो गया। आनन फानन में सिपाही को जिला अस्पताल ले जाया गया।

जहां घायल सिपाही के सिर पर सात टांके आए और सूचना मिलने पर सहायक सेनानायक तपेश कुमार सहित अधिकारी अस्पताल पहुंचे। जहां उन्होंने घटना की जानकारी ली। मंगलवार की सुबह घायल सिपाही अजमेर सिंह ने आरोपी सिपाही दीपक के खिलाफ कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने आरोपी सिपाही को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी और तहरीर के आधार पर हत्या के प्रयास सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है।

Advertisement