देहरादून में गुलदार की दहशत, जख्मी बच्चे की हुई सफल सर्जरी

खबर शेयर करें -

बीते कुछ दिनों से राजधानी देहरादून में गुलदार का आतंक बना हुआ है। दून के कुछ इलाकों में गुलदार आतंक का पर्याय बन गया है। गुलदार की दहशत के कारण इन दिनों लोग दिन ढलते ही अपने घरों में कैद होने को मजबूर हो गए हैं। बीते दिनों गुलदार के हमले में एक बच्चा जख्मी हो गया था। जिसकी सफल सर्जरी कर दी गई है।

गुलदार के हमले में जख्मी बच्चे की हुई सफल सर्जरी
राजधानी देहरादून के ग्रामीण क्षेत्रों में गुलदार की बढ़ती दहशत अब शहरों में भी दिखाई दे रही है। ठंड और कोहरे के मौसम में गुलदार शहर की ओर रुख कर रहे हैं। देहरादून की तो बीते कुछ दिनों में गुलदार के हमले के कई मामले सामने आ चुके हैं।

यह भी पढ़ें -  महाराष्ट्र राजभवन से विदा लेकर देहरादून पहुंचे कोश्यारी

बीते रविवार को भी देहरादून के कैनाल रोड के पास गुलदार ने एक 12 साल के बच्चे पर जानलेवा हमला कर दिया था। जिसके बाद घायल बच्चे का दून हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था। वहीं इसी बीच अच्छी खबर सामने आई है कि डॉक्टरों ने घायल बच्चे की सफल सर्जरी कर दी है और बच्चा रिकवर हो रहा है।

यह भी पढ़ें -  यमुनोत्री और नीति घाटी में हुई बर्फबारी, खूबसूरत नजारे मोह लेंगे आपका मन

बुरी तरह जख्मी हो गया था बच्चा
गुलदार के हमले में घायल बच्चे को दून अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में एडमिट कराया गया था। दून हॉस्पिटल में घायल बच्चे का प्लास्टिक सर्जन डॉक्टर शिवम डांग ने सफल सर्जरी की है। दून अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक अनुराग अग्रवाल ने बताया की हमले की वजह से बच्चे के सिर पर कई जगह घाव हो गए थे।

बच्चे के सिर के पीछे की स्किन पूरी तरह से गायब हो गई थी। लेकिन अब इसका ट्रीटमेंट सही प्रकार से हो रहा है। उन्होंने बताया कि गुलदार ने बच्चे की बहुत सारी स्किन नोंच ली थी। जिसका बीते दिन सफल ऑपरेशन किया गया।

यह भी पढ़ें -  प्रदेश में कोरोना के साथ नए वेरिएंट के बढ़ने लगे मामले

गुलदार को ट्रैंकुलाइज करने के निर्देश
कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी का कहना है कि वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि गुलदार को ट्रैंकुलाइज किया जाए। गुलदार को पकड़ने के लिए कई जगहों पर पिंजरे भी लगाए गए हैं लेकिन गुलदार पकड़ में नहीं आ रहा है। जिसे देखते हुए वन विभाग को गुलदार को ट्रैंकुलाइज करने के निर्देश दिए गए हैं।

Advertisement