प्रेमी के साथ हाथरस से हरिद्वार आई थी किशोरी के अपहरण के बाद खुलासा, आरोपी के घर से भी दूसरी किशोरी मिली

खबर शेयर करें -


हरिद्वार। प्रेमी के साथ हाथरस से हरिद्वार रेलवे स्टेशन पहुंची एक किशोरी को एक आरोपी ने खुद को पुलिसकर्मी बताकर अगवा कर लिया। इसके बाद देहरादून में बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। हरिद्वार जीआरपी ने मामले का खुलासा करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। यूपी में आरोपी के घर से एक और किशोरी भी बरामद हुई है, जिससे आरोपी एक महीने से दुष्कर्म कर रहा था। पीड़िताओं के मेडिकल परीक्षण करने के बाद कोर्ट में बयान दर्ज कराए गए। आरोपी को भी कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।
रेलवे पुलिस अधीक्षक सरिता डोबाल ने बताया कि बीती 14 जून को यूपी के हाथरस से एक नाबालिग प्रेमी युगल फरार होकर ट्रेन से हरिद्वार रेलवे स्टेशन पहुंचा था, जहां एक व्यक्ति ने खुद को पुलिसकर्मी बताकर युगल को डरा धमकाया। तब किशोर को मौके पर ही छोड़कर वह किशोरी को अपने साथ पूछताछ के लिए ले गया। देर शाम तक भी किशोरी के वापस नहीं लौटने पर किशोर जीआरपी थाने पहुंचा और पूरी कहानी से एसओ जीआरपी अनुज सिंह को अवगत कराया। जीआरपी की टीम ने सीसीटीवी कैमरे खंगालने शुरू किए तो किशोरी को अपने साथ ले जा रहा शख्स के पुलिसकर्मी होने की बात सामने आई। किशोर की सूचना पर हाथरस से उसके परिजन भी पहुंच गए।

इसी दौरान मूल रूप से कोलकाता की रहने वाली किशोरी के परिजन से उसी व्यक्ति ने पुलिसकर्मी बनकर संपर्क साधकर किशोरी के हरिद्वार में होने की जानकारी दी। किशोरी जिस किशोर के साथ यहां आई थी, वह उसके जीजा का भाई ही था। इसलिए परिजन ने रिश्तेदारों से संपर्क किया, तब उन्हें युगल के फरार होने की बात पता चली। परिजन ने रिश्तेदारों को कॉल कर रहे शख्स का नंबर उपलब्ध कराया। इसके बाद बाद जीआरपी ने मोबाइल फोन नंबर मिलने पर किशोरी को 15 जून की रात को देहरादून के डोबाल वाला पथरिया पीर से खोज लिया। उस घर से एक अन्य किशोरी भी मिली। पूछताछ में पता चला कि उक्त व्यक्ति ने किशोरी का अपहरण कर यहां लाया था और डरा धमकाकर उसके साथ दुष्कर्म कर रहा था। विरोध करने पर हत्या की धमकी दे रहा था।
एसपी रेलवे सरिता डोबाल ने बताया कि एसओ अनुज सिंह की अगुवाई में आरोपी अर्जुन सिंह राणा निवासी डोबाल वाला पथरिया पीर देहरादून को भी रविवार देर शाम गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी बहराइच की किशोरी का भी रेलवे स्टेशन से अपहरण कर यहां लाया था। एक माह से उसके साथ भी दुष्कर्म कर रहा था। किशोर के पिता की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ किशोरी को बंधक बनाकर दुष्कर्म, हत्या की धमकी देने, पोक्सो ऐक्ट समेत प्रभावी धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। कोर्ट में पेश कर उसे जेल भेज दिया है। बहराइच पुलिस से भी संपर्क किया गया है।

Advertisement