मुख्‍तार के शव को लेकर गाजीपुर जाएगा बेटा उमर अंसारी, काली बाग कब्र‍िस्‍तान में चल रही सुपुर्द-ए-खाक की तैयारी

खबर शेयर करें -

नई द‍िल्‍ली: उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी की गुरुवार देर रात मौत हो गई। परिजनों की ओर से दी गई सूचना के अनुसार, परिवार का गाजीपुर जिले के काली बाग में पारिवारिक कब्रिस्तान है। वहीं पर मुख्तार को सुपुर्द-ए-खाक करने की तैयारी की जा रही है। जिले में भारी सुरक्षा व्यवस्था भी की गई है।

मुख्‍तार का शव लेने पोस्‍टमार्टम हाउस पहुंचा वाहन
बांदा में मुख्तार का शव ले जाने के लिए मेडिकल कॉलेज स्थित पोस्टमार्टम हाउस पहुंचा शव वाहन। चालक मनोज कुमार ने बताया कि प्रशासन की ओर से तय रूट से जाएंगे। वाहन में चार स्वजन के भी बैठने की व्यवस्था है।

यह भी पढ़ें -  जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड टेस्ट कैम्प लगाए जा रहे हैं रोस्टर अनुसार देखें

मुख्तार के शव का पोस्टमार्टम शुरू
मुख्तार के शव का पोस्टमार्टम शुरू हो गया है। पांच सदस्यीय डाक्टरों की टीम पोस्टमार्टम कर रही है।

मुख्‍तार की मौत पर योगी के मंत्री ने क्‍या कहा?
मुख्तार अंसारी की मौत पर कैबिनेट मंत्री संजय निषाद ने कहा, “लोग जो संदिग्ध मौत की बात कहते हैं, वो जांच का विषय है। जांच में सत्यता के आधार पर बयान करना चाहिए। आज के दिन विज्ञान पर भरोसा करना चाहिए। फॉरेंसिक रिपोर्ट पर ही विश्वास किया जा सकता है…किसी की मौत पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।”

यह भी पढ़ें -  प्रदेश के तीनों ऊर्जा निगमों के प्रस्तावों से बिजली दरों में 30 फीसदी तक बढ़ोतरी, एक अप्रैल से होंगी लागू

मऊ के एसपी ने की शांति बनाए रखने की अपील
मऊ के एसपी ने कहा, “जैसे ही हमें मुख्तार अंसारी की मौत की सूचना मिली, मऊ पुलिस ने तुरंत संवेदनशील इलाकों में जवानों को तैनात कर दिया। आज, शुक्रवार की नमाज भी पढ़ी जाएगी… कुछ अफवाहें फैल रही हैं कि क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है, हम हाई अलर्ट पर हैं। मऊ में सीआरपीसी की धारा 144 पहले ही लागू कर दी गई है। मैं सभी से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं और अफवाहों पर विश्वास न करें। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Advertisement