प्रदेश सरकार तानाशाह तरीक़े से राज करते हुए बिना कारण कारोबारियों को उजाड़ने की साजिश कर रही – सुमित हृदयेश

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी। पुलिस प्रशासन उत्तराखंड की तानाशाह सरकार के माध्यम से लोकतंत्र की मर्यादा को तार तार करने में लगा हुआ हैं। चाहे हल्द्वानी के मुख्य बाज़ार की दुकानों को तोड़ने का मामला हो या फिर गौला नदी निजीकरण का मामला, सभी में जनता को निशाना बनाया जा रहा है। यह बात प्रेस को जारी बयान में हल्द्वानी विधायक सुमित हृदयेश ने कही। हृदयेश ने कहा कि सरकार रेरा के माध्यम से किसानों के हक़ छीन रही है। लगातार पुलिस प्रशासन बड़ा सख़्त रवैया अपनाकर चल रहा है। पीड़ितों को अपना विरोध- प्रदर्शन भी दर्ज नहीं करने दे रहा है।

विधायक सुमित हृदयेश ने कहा कि मैं व्यक्तिगत कार्य से शहर से बाहर हूँ, लेकिन तब भी सभी के संपर्क में हूँ। जिस प्रकार से आम व्यक्ति को, कारोबारियों को, किसानों को यह सरकार और प्रशासनिक प्रणाली परेशान कर रही हैं यह साफ़ दर्शाता है की प्रदेश की सरकार तानाशाह तरीक़े से राज करना चाहती हैं।हल्द्वानी में सैकड़ो सालों से व्यापार कर रहे कारोबारियों को बिना कारण उजाड़ने की साजिश की गई है। इनके सारे नारे ‘सबका साथ सबका विकास’ और जीतने भी नारे है सब झूठे साबित होते जा रहे हैं। आम जनमानस का रोष दिन प्रति दिन इनके लिए बढ़ता जा रहा है। विधायक सुमित हृदयेश ने कहा कि वह व्यापारियों के साथ खड़े रहेंगे

Advertisement
यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड रोजगार समाचार : SSB में सब इंस्पेक्टर के पदों पर निकली भर्ती , आवेदन शुरू