रिलायंस ज्वेल्स में चोरी के मुख्य आरोपी समेत तीन अन्य व्यक्ति गिरफ्तार

खबर शेयर करें -

राजपुर रोड स्थित रिलायंस ज्वेल्स में नौ नवम्बर को हुई करोड़ों की लूट मामले में देहरादून पुलिस खुलासे के करीब बढ़ती दिख रही है। पुलिस ने एक लुटेरे को बिहार के मुजफ्फरपुर से गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा फंडिंग की व्यवस्था करने वाले तीन आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। सभी को देहरादून लाने की तैयारी की जा रही है।

.
मुख्य आरोपी समेत तीन अन्य व्यक्ति गिरफ्तार
पुलिस ने लूट में शामिल एक बदमाश को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान अखिलेश (24) उर्फ अभिषेक निवासी सीतामढ़ी के रूप में हुई है। अखिलेश लूट में शामिल मुख्य आरोपी है। इसके अलावा पुलिस ने तीन अन्य व्यक्तियों को भी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है ये तीनों व्यक्ति पूर्व गैंग के लिए फंडिंग की व्यवस्था करते थे।

यह भी पढ़ें -  चिकित्सकों ने बचाई कोरोना संक्रमित महिला और नवजात की जान - पीएचसी धौलछीना में कराया गया सुरक्षित प्रसव

आरोपियों को करते थे फंडिंग
तीनों व्यक्तियों की पहचान कुंदन कुमार (27) पुत्र कामेश्वर प्रसाद निवासी मुज्जफरपुर, मोहम्मद आदिल (29) पुत्र स्व मतलूब असगर निवासी पटना और आशीष (23) पुत्र सुनील सिंह निवासी मुजफ्फरपुर के रूप में हुई है। चारों आरोपियों को पूछताछ के लिए ट्रांजिट रिमांड में देहरादून लाया जा रहा है।

लूट के बाद मुख्य आरोपी को दिए थे पैसे
पुलिस द्वारा दी जानकारी के मुताबिक अखिलेश रायगंज (पश्चिम बंगाल) के रिलायंस ज्वैलरी शोरूम में हुई 30 करोड़ की डकैती में भी शामिल था। जबकि ये तीनों आरोपी बदनाशों को ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करते थे। बताया जा रहा है देहरादून में हुई घटना के बाद कुंदन ने मुख्य आरोपी अभिषेक को 12 नवंबर को एक लाख रुपए कैश दिए थे।

यह भी पढ़ें -  होटल में हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट का भंडाफोड़

ये है पूरा मामला
दरअसल राज्य स्थापना दिवस पर राष्ट्रपति की दून में मौजूदगी के दौरान हथियार बंद बदमाशों ने राजपुर रोड स्थित रिलायंस के ज्वेलरी शोरूम में लूट की घटना को अंजाम दिया था। बदमाश यहां से करीब 14 करोड़ के ज्वेलरी लेकर फरार हो गए थे।घटना के दिन से ही दून पुलिस लगातार बदमाशों की धरपकड़ में जुटी है। दून पुलिस की विभिन्न टीमें बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल सहित विभिन्न राज्यों में डेरा डाले हुए है और लगातार बदमाशों की धरपकड़ के लिए दबिश दे रही है।

Advertisement