जल्द खत्म होगी हल्द्वानी- लालकुआं में आवारा जानवरों से परेशानी, पढ़िए DM का एक्शन प्लान

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी – जिलाधिकारी वंदना सिंह ने गुरुवार को शीशमहल में अस्थाई तौर पर संचालित हो रही गौशाला तथा गंगापुर कबड़वाल में बन रही नगर निगम हल्द्वानी की स्थाई गौशाला का निरीक्षण किया, कहा कि शहर और ग्ामीण इलाकों में आवारा पशुओं की संख्या लगातार बढती जा रही है। मैदानी इलाकों में जहां आए दिन आवारा पशुओं के कारण सड़क दुर्घटना, जाम की स्थिति बन रही है। वहीं ग्ामीण इलाकों में आवारा पशुओं से फसलों आदि का नुकसान हो रहा है। इसके निदान के लिए जिला प्रशासन लंबे समय से गौशाला निर्माण के प्रयास कर रहा था। कहा कि स्थाई गौशाला का निर्माण होने तक शीशमहल में अस्थाई गौशाला होने से नगर की समस्या का तात्कालिक निदान किया जा सकेगा । उन्होंने नगर निगम को गौशाला में पानी-चारा की उचित व्यवस्था, अलाव और अस्थाई शेड बनाने के निर्देश दिए।

हल्दुचौड़ गंगापुर कब्डवाल में 4.26 हेक्टेयर भूमि में निर्माणाधीन गौशाला के निरीक्षण पर पहुंची जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त को गोशाला के मास्टर प्लान तैयार करने के निर्देश दिए। जिसमें शेड्स, पानी पीने के लिए नांद, ट्यूबवेल टैंक, गोवंश के लिए चारा भूसा रखने के साथ ही पशुओं के उपचार के लिए डिस्पेंसरी आदि की व्यवस्था रहेगी। वर्तमान में गोशाला की बाउंड्री का कार्य गतिमान है। इन दीवारों को आर्कषक बनाने के लिए नगर निगम को गोवंश से जुड़ी आकर्षक चित्रकारी की दिशा में कार्य करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही क्षेत्र में किसानों की मांग के अनुरूप सिंचाई की बेहतर व्यवस्था हेतु लघु सिंचाई को गुल मरमत की कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें -  जीवन प्रमाण पत्र के लिए पेंशनरों को अब कोषागार नही जाना पडेगा- मुख्य कोषाधिकारी दिनेश राणा।


निरीक्षण के दौरान नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय, नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा मनोज कांडपाल, तहसीलदार लालकुआं मनीषा बिष्ट सहित क्षेत्रीय लोग मौजूद थे।

Advertisement