प्रॉपर्टी के लालच में बेटी ने कराई बुजुर्ग मां की हत्या, नाबालिग सुपारी किलर समेत तीन अरेस्ट

खबर शेयर करें -

दिल्ली पुलिस ने 30 साल की एक महिला चिंतामणि को गिरफ्तार किया है, जिसने 65 साल की अपनी बुजुर्ग मां की सुपारी किलिंग करवाई थी. मां की हत्या के लिए चिंतामणि ने एक नाबालिग लड़के को दो लाख देने की बात कही थी.

लालच में आकर नाबालिक ने 27 सितंबर को महिला को घर में घुसकर मार दिया था. साथ ही पुलिस अशोक शर्मा नाम के एक प्रॉपर्टी डीलर को भी गिरफ्तार किया है जो साजिश में शामिल था.

27 सितंबर की दोपहर दिल्ली पुलिस को कॉल मिली थी कि दयालपुर इलाके में घर के अंदर एक बुजुर्ग महिला की हत्या कर दी गई है. मौके पर पहुंची पुलिस को खून से लथपथ 65 साल की बुजुर्ग महिला शिवकला की लाश मिली. शुरुआती जांच में पुलिस को न तो लूटपाट के कोई निशान मिले और न ही किसी के जबरन घर में घुसने के. चिंतामणि दयालपुर इलाके में ही 25 गज के प्लाट में अकेले रहा करती थी और वहीं पर एक दुकान चलाया करती थी.

यह भी पढ़ें -  जिले में समस्त तहसील, विकास खण्डों के साथ ही शासकीय कार्यालयों में मतदाता दिवस मनाया गया

प्रॉपर्टी के लालच में बेटी ने कराई मां की हत्या

जांच के दौरान पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले. क्योंकि पुलिस को हत्या के पीछे का मोटिव पता नहीं लग रहा था. सीसीटीवी फुटेज में पुलिस को एक लड़का शिवकला की दुकान के आसपास मडराता हुआ नजर आया. इसके बाद पुलिस ने उसे लड़के की पहचान की और उसे हिरासत में लिया. फिर सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया.

यह भी पढ़ें -  डेल्टा प्लस वैरीअंट ने बढ़ाई केंद्र सरकार की चिंता लिखी 8 राज्यों को चिट्ठी

पुलिस ने बताया कि आरोपी नाबालिग बाइक मैकेनिक है. शिवकला की बेटी चिंतामणि ने उसे हत्या के बदले दो लाख देने की बात कही थी. आरोपी नाबालिग है, लिहाजा उसे जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के सामने पेश किया गया. उसके बयान के आधार पर पुलिस ने चिंतामणि को गिरफ्तार किया. पूछताछ में चिंतामणि ने बताया कि उसकी शादी 13 साल पहले हुई थी. उसकी 11 साल की एक बेटी और 7 साल का बेटा है लेकिन उनकी आर्थिक स्थिति बिल्कुल ठीक नहीं है.

यह भी पढ़ें -  यहां सेक्स रैकेट की सरगना सहित दो दलाल गिरफ्तार

हत्या के मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार

उसे लगा कि अगर उसकी मां की मौत हो जाती है तो वह उसे प्रॉपर्टी को बेचकर कहीं अच्छी जगह रहने के लिए जा सकती है. इसके बाद चिंतामणि ने यह बात अपने बगल में रहने वाले प्रॉपर्टी डीलर अशोक शर्मा को बताई. अशोक मदद करने के लिए तैयार हो गया. इसके बाद पुलिस ने अशोक शर्मा को भी गिरफ्तार कर लिया.

Advertisement