डेरा कार सेवा प्रमुख बाबा तरसेम सिंह के हत्यारोपियों की तलाश में पुलिस की 11 टीमें लगी

खबर शेयर करें -


रुद्रपुर। नानकमत्ता में डेरा कार सेवा प्रमुख बाबा तरसेम सिंह की हत्या में शामिल दो हत्यारोपियों की तलाश में पुलिस की 11 टीमें जुटी हुई हैं। हत्यारोपियों की तलाश में दो टीमों ने पंजाब और दो टीमें यूपी में डेरा डाला हुआ है। हत्यारोपियों को दबोचने के लिए दोनाें राज्यों की पुलिस से सहयोग मांगा गया है। साथ ही घटना से संबंधित जानकारियां साझा की जा रही हैं।
बृहस्पतिवार सुबह बाइक सवार दो बदमाशों ने राइफल से दो गोलियां मारकर बाबा तरसेम सिंह की हत्या कर दी थी। हत्याकांड को अंजाम देने वाले बदमाश सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए थे। बिना पहचान छिपाए हत्या को अंजाम देने से साफ हो गया कि वह पहचान छिपाना नहीं चाहते थे। मामले में डीजीपी ने तत्काल एसआईटी का गठन किया। मामले के खुलासे को लेकर पुलिस की 11 टीमें जुटी हैं। एसटीएफ की जांच कर रही है। सूत्रों के हत्या करने के बाद दोनों बदमाश चोर रास्तों से पीलीभीत होते हुए फरार हुए थे। पुलिस की टीम स्थानीय लिंक पर भी काम कर रही है। बदमाशों को बाइक और असलहा स्थानीय स्तर से उपलब्ध कराया गया या फिर किसी दूसरी जगह से, इस पर भी गहराई से जांच की जा रही है। इसके साथ ही सराय में तीन दिन तक रुकने की अनुमति के बावजूद नौ दिन तक रहना सवाल खड़े कर रहा है।

हाईप्रोफाइल मामले के लिए उत्तराखंड पुलिस ने यूपी और पंजाब पुलिस से मदद ली है। पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता नीलेश आनंद भरणे ने बताया कि यूपी और पंजाब पुलिस से सहयोग लिया जा रहा है। तीनों राज्यों की पुलिस इस मामले में एक दूसरे को जानकारियां साझा कर रही हैं।

Advertisement
यह भी पढ़ें -  उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल में तीसरा बजट क‍िया पेश