विजिलेंस की एक और बड़ी कार्रवाई , 5 हजार की रिश्वत लेते सिपाही गिरफ्तार

खबर शेयर करें -

उत्तराखंड विजिलेंस का भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान जारी है इसी क्रम में विजिलेंस की टीम ने कनखल थाने की जगजीतपुर चौकी में तैनात एक सिपाही को रंगे हाथों रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। विजिलेंस की टीम में यह कार्रवाई पीड़ित की शिकायत पर की। बताते हैं कि मारपीट के मुकदमे में क्रॉस रिपोर्ट में कार्रवाई के नाम पर रिश्वत ली थी।

जानकारी के मुताबिक कनखल थाना क्षेत्र की जगजीतपुर चौकी निवासी राजू ने विजिलेंस को शिकायत की पत्र देकर बताया था कि उसके वह परिवार वालों के खिलाफ 27 मई को तुषार पुत्र वीरेंद्र सिंह निवासी पीठ बाजार जगजीतपुर कनखल ने घर में घुसकर मारपीट करने और जान से मारने की धमकी देने के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया था।
उन्होंने भी दूसरे पक्ष के खिलाफ क्रॉस मुकदमा दर्ज कराया था।मुकदमे के संबंध में 25 अक्टूबर को पुलिस चौकी जगजीतपुर में मुंशी के पद पर तैनात सिपाही पप्पू कश्यप ने उन्हें चौकी बुलाया आरोप है कि सिपाही ने उसे व उसके परिवार के एक अन्य सदस्यों को हवालात में बंद कर दिया और उसकी जेब में रखी रकम निकाल ली।

इतना होने के बाद सिपाही ने निकले ₹5000 चौकी इंचार्ज को देकर उन्हें बचाने की बात कही। आरोप है कि सिपाही ने कहा कि आरोपियों की जमानत कराने के लिए ₹5000 और देने होंगे, जिससे उनकी बाहर से ही जमानत हो जाए।सूचना पर विजिलेंस की टीम ने रिश्वत की रकम ले रहे सिपाही पप्पू कश्यप को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। विजिलेंस की टीम सिपाही को अपने साथ देहरादून ले गई।

Advertisement
यह भी पढ़ें -  देवभूमि की बेटी कर्नल गीता बनी भारतीय सेना में पहली महिला कमांडर