हल्द्वानी में बवाल, 10th-12th का एग्जाम नजदीक, इंटरनेट ठप, बच्चों की तैयारी पर पड़ रहा बड़ा असर, ये परीक्षा हुई स्थगित

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी : बनभूलपुरा में सरकारी भूमि पर पहले अतिक्रमण किया, फिर अवैध तरीके से मदरसा भी बनाया और जब प्रशासन व पुलिस टीम कानूनी प्रक्रिया के तहत निर्माण ध्वस्त करने पहुंची तो हल्द्वानी के शांतिपूर्ण माहौल को सैकड़ों उपद्रवियों ने आग में झोंक दिया।

अवैध मदरसे के लिए बवाल कर पुलिस, नगर निगम व मीडिया कर्मियों की जान लेने पर उतारू दिखे अराजकतत्वों को स्कूल और कालेजों में अध्ययनरत दूसरों के तो छोड़िये खुद के बच्चों की तक चिंता नहीं थी। इन उपद्रवियों ने पूरे जिले को अशांत किया और विद्यार्थियों के भविष्य को दांव पर लगा दिया।

दरअसल, कुमाऊं विश्वविद्यालय और उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय की परीक्षाएं चल रही हैं। साथ ही विद्यार्थियों के हित में उच्च शिक्षा संस्थान सत्र नियमित करने की योजना से परीक्षाएं संचालित कर रहा था, ताकि स्नातकोत्तर के बाद विद्यार्थियों को अन्य संस्थानों में प्रवेश लेने में समस्या न आए।

यह भी पढ़ें -  अब इस राज्य के मुख्यमंत्री ने दिया इस्तीफा, ये है बड़ा कारण

दोनों विश्वविद्यालयों के नैनीताल जिले में 15 हजार से अधिक छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं, मगर आठ फरवरी की शाम बनभूलपुरा को उपद्रवियों ने आग में झुलसा दिया। तनाव की स्थिति को देख जिलाधिकारी ने तत्काल प्रभाव से कर्फ्यू घोषित कर दिया था।

इस स्थिति को देखते हुए कुमाऊं विवि ने नैनीताल के साथ ही ऊधम सिंह नगर जिले के सभी कालेजों में संचालित सभी परीक्षाओं को आगामी आदेशों तक स्थगित कर दिया, जबकि यूओयू प्रशासन ने हल्द्वानी, हल्दूचौड़ और रामनगर केंद्र में 10 फरवरी तक की परीक्षाएं स्थगित कर दीं। ऐसे में विवि की व्यवस्थाएं प्रभावित हुई हैं। साथ ही विद्यार्थियों में भी असमंजस की स्थिति उत्पन्न हो गई हैं।

यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी के नशा मुक्ति केंद्र में मारपीट एवं तोड़फोड़ कर 19 नशेड़ी हुए फरार………… मुकदमा दर्ज………… जांच शुरू………

बच्चों की पढ़ाई हुई प्रभावित
सीबीएसई, उत्तराखंड बोर्ड के भी बच्चे प्रभावित केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की परीक्षाएं 15 फरवरी और उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षाएं 27 फरवरी से होनी हैं। हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के बच्चों के लिए परीक्षा की अंतिम घड़ी काफी महत्वपूर्ण होती है। छात्र-छात्राएं वर्ष की गई पढ़ाई को रिवाइज कर रहे हैं, मगर हल्द्वानी में उत्पन्न परिस्थितियों के बाद बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हुई है।

इंटरनेट ठप होने से भी अध्ययन पर असर दिख रहा है। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवा परेशान प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवा काफी संख्या में कालेजों और नगर के प्राइवेट पुस्तकालयों में अध्ययन के लिए जाते हैं। साथ ही इंटरनेट के माध्यम से भी पढ़ाई करते हैं, मगर उपद्रवियों के कारण युवा अपनी परीक्षाओं की तैयारियों भी सही से नहीं कर पा रहे हैं।

यह भी पढ़ें -  प्राचीन काल से आज तक पुरुषों ने महिलाओं के सम्मान और विकास में प्रगति उन्नति लाने के लिए हमेशा ही दृढ़ता के साथ संघर्ष किया -योगेन्द्र कुमार साहू

ये परीक्षा प्रभावित
कुमाऊं विवि : स्नातकोत्तर की सभी परीक्षाएं स्थगित, कौशल विकास परीक्षा पर असर

यूओयू : एमबीपीजी, हल्दूचौड़ और रामनगर कालेज में दो परीक्षाएं स्थगित

प्रैक्टिकल : कालेजों में प्रयोगात्मक कार्य और परीक्षाएं नहीं हो रही हैं

गृह परीक्षा : स्कूलों में होने वाली गृह परीक्षाएं प्रभावित हो गई हैं

Advertisement