चारधाम यात्रा 2024: श्रद्धालुओं के साथ हरिद्वार में मारपीट, प्रसाद न खरीदने पर दुकानदारों ने कपड़े तक फाड़ दिए

खबर शेयर करें -

, हरिद्वार: चारधाम श्रद्धालुओं के साथ मनसा देवी मंदिर परिसर में कुछ दुकानदारों ने मारपीट कर दी। आरोप है कि दुकानदारों ने पहले तो जबरन प्रसाद खरीदने का दबाव बनाया। मना करने पर दुकानदारों ने मिलकर पिटाई की और कपड़े तक फाड़ दिए गए। पुलिस ने दुकानदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक, राहुल चौकरने निवासी रतिन सीटी सेक्टर (ए) बैतूल मध्य प्रदेश में शासकीय सेवा में कार्यरत हैं। वे अपने भाई व परिवार के अन्य सदस्यों के साथ केदारनाथ और बदरीनाथ की यात्रा पर आए हैं।
10-12 दुकानदारों ने घेर लिया
मनसा देवी मंदिर दर्शन के लिए पहुंचे तो परिसर में 10-12 दुकानदारों ने उन्हें घेर लिया और जबरन प्रसाद खरीदने का दबाव बनाया। मना करने पर दुकानदारों ने मिलकर राहुल चौकरने और उनके भाई को बुरी तरह पीटा।

यह भी पढ़ें -  नैनीताल की इन 6 विधानसभाओं के लिए ऐसी रहेगी सुरक्षा व्यवस्था

पीड़ित श्रद्धालु ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि मारपीट के दौरान उनके सिर में चोट आई है। कपड़े फट गए और मोबाइल भी टूट गया। आरोप लगाया कि दुकानदारों ने मिलकर दोनों भाइयों को जान से मारने की धमकी भी दी।

आरोपित दुकानदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज
शहर कोतवाली प्रभारी कुंदन सिंह राणा ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपित दुकानदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, उन्हें चिन्हित कर कार्रवाई की जाएगी।

हरकी पैड़ी पर सामान बेचने को लेकर झगड़ा, 33 गिरफ्तार
हरकी पैड़ी पर सामान बेचने को लेकर शांति व्यवस्था को भंग कर रहे 33 आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। शांतिभंग की धारा में उनका चालान कर दिया गया। साथ ही चेतावनी दी गई है कि भविष्य में विवाद किया तो कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। सभी को न्यायालय में पेश किया है।

यह भी पढ़ें -  सीएम धामी ने सचिवालय में उत्तराखंड राज्य वन्यजीव बोर्ड की 19 वीं बैठक की,दिए निर्देश

शहर कोतवाली प्रभारी कुंदन सिंह राणा ने बताया कि हरकी पैड़ी चौकी क्षेत्र में शांति व्यवस्था ड्यूटी में लगाए गए पुलिसकर्मी मालवीय घाट के पास गश्त कर रहे थे। उन्होंने देखा कि कुछ लोग सामान बेचने और सामान की कीमत को लेकर आपस में बहस कर रहे थे, पुलिसकर्मियों ने उन्हें समझाने का प्रयास किया। लेकिन वह मारपीट करने पर उतारू हो गए, जिससे अन्य श्रद्धालुओं को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड -यहां बर्तन बेचने वाली आई दो महिलाओं ने की कई महिलाओं के साथ लाखों की धोखाधड़ी

शांति व्यवस्था के मद्देनजर मौके से 33 लोगों को हिरासत में लिया गया और सभी का शांतिभंग में चालान कर दिया गया। सभी को सख्त चेतावनी दी गई कि भविष्य में यदि ऐसा किया तो कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

इनके खिलाफ हुई कार्रवाई
सोनू, किशन, रंजीत, विनोद, पप्पू, राकेश, संजू, ताराचंद, दिवेश धीरज, चिंटू निवासीगण लालजीवाला, अनुपम, उत्तम, राजेश, देवा, प्रियांशु निवासीगण गोसाई गली भीमगोडा, दूसरे पक्ष के सुरेंद्र, संजय, प्रमोद, जितेंद्र, अंकित, शोभित, अरविंद, मुकेश निवासीगण कड़च्छ, अमनदीप निवासी इंद्रा बस्ती, संजीव, श्याम बाबू, शैलेंद्र, पंकज निवासी ब्रह्मपुरी, अमित कुमार, महिपाल निवासी रोडीबेलवाला व दशरथ निवासी ब्रहमपुरी हरिद्वार के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

Advertisement