खाकी ने निभाया बेटे का फर्ज, पुलिस ने चाय पत्ती बेचने वाली अम्मा का किया अंतिम संस्कार

खबर शेयर करें -

चमोली पुलिस ने ऐसा काम किया है जिसकी हर तरफ तारीफ हो रही है। चमोली पुलिस के जवानों ने साबित किया है कि इंसानियत का रिश्ता सभी रिश्तों से बड़ा होता है।

चमोली पुलिस ने निभाया बेटे का फर्ज
चमोली पुलिस के जवानों ने साबित किया है कि इंसानियत का रिश्ता सभी रिश्तों से बड़ा होता है। बीते कुछ महीने से स्वास्थ्य खराब होने के कारण गोपेश्वर में चाय पत्ती बेचकर अपना गुजर- बसर करने वाली पुलिस की अम्मा पुष्पा देवी पत्नी स्वर्गीय नारायण सिंह उम्र 75 वर्ष जो उपचार हेतु जिला चिकित्सालय गोपेश्वर में एडमिट थी। इनकी 14 अक्टूबर को अस्पताल में मौत हो गई। लेकिन महिला के शव को कोई लेने नहीं आया।

यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी में ई-रिक्शा और ऑटो संचालकों के लिए बड़ी खबर,पढ़े

चमोली पुलिस ने अम्मा का किया अंतिम संस्कार
अनाश्रित होने के कारण महिला के शव को 72 घंटे मोर्चरी जिला चिकित्सालय फ्रीज़र में रखवाया गया। जिसके बाद पुलिस द्वारा महिला के सगे-संबंधियों की जानकारी ली गई। उन्हें जिला नियंत्रण कक्ष के माध्यम से सूचना भी दी गई।

लेकिन कोई भी सगे-संबंधी थाना गोपेश्वर या फिर जिला चिकित्सालय गोपेश्वर उपस्थित नहीं हुए। जिसके बाद चमोली पुलिस ने बेटे का फर्ज निभाते हुए अम्मा के शव न सिर्फ कंधा दिया। बल्कि हिन्दू रीति-रिवाजों व पूरे विधि विधान के साथ अंतिम संस्कार कर नम आंखों से विदाई दी।

Advertisement