गौला नदी में निगम द्वारा कंप्यूटर संचालन में संविदा कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से गौला में आधे से अधिक डंपर नदी में फंसे

खबर शेयर करें -

हल्दूचौड गौला नदी खनन में लगे हुए डंपरों की निकासी में समस्या पैदा हो गयी बताया जा रहा है निगम द्वारा रखे गए संविदा कर्मचारियों कंप्यूटर संचालन में ई रमन्ना निकालने के लिए क्षेत्र के युवकों को रोजगार देने के लिए कंप्यूटर कांटों में रखा गया था जो आज किसी प्राइवेट फॉर्म को इसका ठेका देने के विरोध में कंप्यूटर संचालन करने वाले क्षेत्र के युवाओं ने कार्य बहिष्कार कर सात गेटो में वाहन अंदर फंसे हुए हैं चार गेटों में लोगों ने कंप्यूटर संचालन करने वाले कर्मचारियों को बाहर निकालने के लिए कर्मचारियों की मिन्नत करके वाहन बाहर करें दिन भर सारे गेटों में अपरा तफरी का माहौल बना हुआ था जिससे बाहर स्वामियों में आक्रोश व्याप्त था बाहन स्वामियों का कहना है कि रात भर गौला नदी में चौकीदारी करनी पड़ेगी ।
वही मोटर वाहन स्वामियों और काटा संचालन करने वालों ने निगम के कर्मचारियों पर आरोप लगाया कि वह सहयोग करने के बजाय आंदोलन कर रहे कर्मचारियों के साथ खड़े दिखे
इस संबंध में आर एम गौला से बात करने पर उन्होंने बताया की जो ठेका था वह समाप्त हो गया और किसी प्राइवेट कंपनी को इसका ठेका दे दिया गया है जो कल से कार्य करना शुरू कर देगा। उन्होंने आश्वासन दिया की जल्दी ही इसका समाधान किया जाएगा।

वही गौला खनन समिति के अध्यक्ष रमेश चंद्र जोशी ने कहा कि जिन कर्मचारियों को रखा गया है प्राथमिकता के आधार पर उनको पहले रखना चाहिए क्योंकि वह कर्मचारी लोकल की होने की वजह से पहले उनका हक बनता है।

Advertisement
यह भी पढ़ें -  ज्योलीकोट मार्ग पर दो कार खाई में गिरी तीन की मौत