नैनीताल: 97 पेटी शराब चुनाव से पहले पकड़ी, 24 तस्कर गिरफ्तार, आचार संहिता का सख्ती से पालन

खबर शेयर करें -

, हल्द्वानी: लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पुलिस ने जिले में अलग-अलग थाना क्षेत्र में कार्रवाई करते हुए 97 पेटी देसी-अंग्रेजी और 40 लीटर कच्ची शराब पकड़ी है। साथ ही 24 तस्करों के साथ उनके वाहनों को भी जब्त किया है। एसएसपी के निर्देश पर टीम ने हल्द्वानी, रामनगर, भवाली और लालकुआं क्षेत्र में 20 मामलों में 1488 पव्वे देसी, 469 पव्वे अंग्रेजी, 374 पाउच एवं 40 लीटर कच्ची शराब बरामद कर 21 नशा तस्करों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने जेल रोड तिराहे पर वाहनों की चेकिंग के दौरान एक वाहन से दो पेटी अंग्रेजी शराब की बरामद की है। हीरानगर चौकी के एसआई विजय कुमार ने बताया कि वह कांस्टेबल ललित नाथ के साथ हीरानगर में उत्थान मंच हल्द्वानी के पास वाहनों की चेकिंग कर रहे थे।
ये पढ़ें- लोकसभा चुनाव 2024: भारत-नेपाल की सीमा मतदान से इतने घंटे पहले होगी सील, पड़ोसी देश नेपाल भी करेगा चुनाव में सहयोग
दोपहर सवा दो बजे एक कार एसटीएच की तरफ से आती दिखी जिसे रोका गया। तलाशी में वाहन से अंग्रेजी शराब की दो पेटियां बरामद हुईं। चालक दिनेश सिंह निवासी जंतवाल गांव भीमताल इससे संबंधित दस्तावेज नहीं दिखा सका। उसने बताया कि वह शराब बेचने का काम करता है। आरोपी के खिलाफ आबकारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। वहीं, आरटीओ पुलिस चौकी ने छड़ायल चौराहे पर एक दुकान पर छापा मारा। काउंटर की तलाशी पर दुकान से पांच पेटी देसी शराब बरामद हुई। पुलिस ने आरोपी प्रमोद आर्या निवासी धानमिल चौराहा के खिलाफ आबकारी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें -  CM ने सुना मन की बात कार्यक्रम का 110वां संस्करण, बोले PM देते हैं प्रदेश की संस्कृति को बढ़ावा

उधर, धारी तहसील के कटना नियर सुन्नी बैंड मुक्तेश्वर में अवैध रूप से संचालित मदिरा गोदाम से आबकारी विभाग ने 50 पेटी अवैध शराब बरामद की। टीम ने आरोपी राम सिंह निवासी कटना के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। आबकारी विभाग ने बरामद शराब की कीमत 3.60 लाख रुपये बताई है। टीम ने गोदाम से कुल 50 पेटी शराब बरामद की है। इसमें देसी और अंग्रेजी शराब है। थानाध्यक्ष जगदीप सिंह नेगी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। इधर, भीमताल पुलिस ने चेकिंग अभियान चलाकर आरोपी केशव दत्त पांडे से 250 पव्वे अंग्रेजी शराब अवैध रूप से बरामद की है।

50 हजार से अधिक नकदी ले जाने पर दिखाने होंगे दस्तावेज

यह भी पढ़ें -  विकसित भारत संकल्प यात्रा का मंगलवार को शीशमहल रामलीला प्रांगण में केन्द्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्यमंत्री अजय भटट ने शुभारम्भ किया।

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर नोडल अधिकारी आदर्श आचार संहिता/एडीएम शिवचरण द्विवेदी ने राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों के साथ बुधवार को तहसील स्थित एनआईसी भवन में बैठक की। कहा कि 50 हजार रुपये से अधिक रकम लाने या पहुंचाने के लिए किसी व्यक्ति या समूह को बिल, बैंक की जानकारी, जीएसटी नंबर आदि के दस्तावेज रखने होंगे।
नोडल अधिकारी आर्दश आचार संहिता शिवचरण द्विवेदी ने कहा कि एमबीपीजी कॉलेज में स्ट्रांग रूम और मतगणना कक्षों को चिह्नित किया है। आगामी चुनाव में दिव्यांग और 85 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाता घर बैठे पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान करने का विकल्प रखा गया है। बैठक में लालकुआं विधानसभा क्षेत्र के बारे में उन्होंने बताया कि लालकुआं में कुल मतदेय स्थल 142 हैं, इनमें 857 दिव्यांग मतदाता हैं। 85 वर्ष के अधिक आयु के 718 जबकि दो अन्य मतदाता हैं।
कहा कि विधानसभा क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय हल्दूचौड़ में 658 पुरुष और 632 महिला मतदाता हैं। सबसे कम मतदाता कुष्ठ आश्रम सरकारी भवन हाथीखाल में 75 मतदाता हैं। विधानसभा हल्द्वानी में 183 मतदेय स्थल हैं। इनमें 155720 मतदाता हैं। दिव्यांग 867 तथा 85 साल से अधिक उम्र के 847 और सात अन्य मतदाता हैं।

यह भी पढ़ें -  Salaar Box Office Collection: बॉक्स ऑफिस पर ‘सालार’ का दबदबा, चार दिनों में 250 करोड़ का आंकड़ा किया पार

मतदान कर्मचारियों और पीठासीन अधिकारियों को दी ईवीएम की ट्रेनिंग
हल्द्वानी में लोकसभा चुनाव के लिए मतदान कर्मचारियों, पीठासीन अधिकारियों को बुधवार को ट्रेनिंग दी गई। इस दौरान कर्मचारियों को ईवीएम के बारे में विस्तार से बताया गया। साथ ही मतदान से पहले मॉक पोल कराने के बारे में भी जानकारी दी।
एमबीपीजी कॉलेज में बुधवार को भी पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी और कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया। दो पालियों में आयोजित प्रशिक्षण में नोडल अधिकारी मतदान/मतगणना हिमांशु जोशी ने कहा कि कहा कि मतदान से पहले मॉकपोल अनिवार्य रूप से कराना है। मॉकपोल कराकर निर्धारित समय पर मतदान कराएंगे। पीठासीन एवं मतदान अधिकारी से कहा कि मतदान शुरू होने की सूचना अपने सेक्टर एवं जोनल के साथ ही कंट्रोल रूम एवं सहायक रिटर्निंग ऑफिसर को भी देंगे। साथ ही दो घंटे में मतदान की सूचना देनी अनिवार्य है। प्रशिक्षण में ईवीएम ट्रेनर आरपी पांडे ने कहा कि ईवीएम चुनाव प्रक्रिया का सबसे महत्वपूर्ण अंग है। उन्होंने मतदान से पहले और मतदान के बाद ईवीएम के रखने और उसके उपयोग के बारे विस्तार से बताया।

Advertisement