मजदूरों को लेकर ऋषिकेश पहुंचा चिनूक, एम्स में सभी का होगा स्वास्थ्य परीक्षण

खबर शेयर करें -

सिलक्यारा टनल में फंसे सभी मजदूरों को रेस्क्यू कर चिन्यालीसौंड़ अस्पताल ले जा गया था। जहां से उन्हें एयर लिफ्ट कर चिनूक ऋषिकेश एम्स पहुंच चुका है। ऋषिकेश एम्स में सभी मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा।

.
मजदूरों को लेकर ऋषिकेश पहुंचा चिनूक
सुरंग में फंसे सभी 41 मजदूरों को लेकर चिनूक हेलीकॉप्टर ऋषिकेश पहुंच चुका है। ऋषिकेश एम्स में सभी के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी। जिसके बाद सभी मजदूरों को उनके घर भेज दिया जाएगा। मजदूरों के परिजनों को एंबुलेंस से ऋषिकेश के लिए रवाना किया गया है। कुछ ही देर में परिजन भी मजदूरों के साथ एम्स ऋषिकेश में मौजूद होंगे।

यह भी पढ़ें -  UKPSC ने खोला नौकरी का पिटारा। इन विभागों में 223 पदों पर निकली भर्ती, ऐसे करें आवेदन

सीएम धामी ने मजदूरों को बांटी राहत राशि
ऋषिकेश के लिए रवाना होने से पहले सीएम धामी चिन्यालीसौंड़ अस्पताल पहुंचे। जहां उन्होंने मजदूरों और उनके परिजनों से मुलाकात की और उनका हालचाल जाना। इस दौरान सीएम धामी ने सभी मजदूरों को राहत राशि के एक-एक लाख के चेक बांटे।

आज दून में मनाया जाएगा इगास लोकपर्व
श्रमिकों के सकुशल सुरंग से बाहर आने की खुशी में आज मुख्यमंत्री आवास में आज शाम इगास मनाई जाएगी। दीपावली के 17 दिन बाद पहली बार उत्तराखंड में लोकपर्व इगास मनाया जाएगा। बता दें कि इगास उत्तराखंड का लोकपर्व है जिसे दीपावली के 11 दिन बाद मनाया जाता है।

यह भी पढ़ें -  दवाईयों की कालाबजारी को रोकने के लिये डीएम ने की छापेमारी

बता दें कि हर साल मुख्यमंत्री आवास में इगास लोकपर्व धूमधाम से मनाया जाता है। लेकिन इस बार उत्तरकाशी के सिलक्यारा में 41 मजदूरों के फंसे होने के कारण सीएम धामी ने इगास धूमधाम से ना मनाने का फैसला लिया था।जिसके बाद आज इसे मनाया जाएगा।

Advertisement