दो सहेलियों में हुआ प्यार घर से हुईं फरार, वापस आकर रख दी ये शर्त

खबर शेयर करें -

दो युवतियों में प्यार परवान चढ़ा तो वह संग जीने मरने की कश्में खाकर परिवार से खुली बगावत कर बनारस भाग गईं। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने उन्हें बरामद किया। आगे पढ़ें कि युवतियां किस शर्त पर परिजनों के साथ रहने को राजी हुईं।

अजीब प्रेम प्रसंग का मामला उत्तराखंड के हरिद्वार सिडकुल से सटे एक गांव में सामने आया है। इस गांव में यूपी के बिजनौर का एक परिवार भी रहता है। परिवार की 18 साल की लड़की एक कंपनी में काम करती है। एक साल पूर्व ही उस युवती की कंपनी में सहकर्मी बिहार निवासी19 साल की युवती से दोस्ती हुई थी। बिहार निवासी युवती भी सिडकुल से सटे उसी गांव में अपनी बहन के साथ रह रही थी। धीरे-धीरे दोनों सहेलियों में प्यार परवान चढ़ने लगा। दोनों में प्यार इतना कि एक-दूजे संग रहने के लिए वह परिवार से बगावत पर भी उतर आए। तमाम कोशिशों के बाद भी परिजन उन्हें समझा नहीं पाए।

यह भी पढ़ें -  भगवती के छटनीशुदा श्रमिकों का धरना जारी

एक-दूजे के खातिर घर से हुए फरार

कुछ दिन पहले ही संदिग्ध हालात में दोनों सहेलियां लापता हो गई थीं। तमाम खोजबीन के बाद भी उनका सुराग नहीं लग पा रहा था। मामला पुलिस में पहुंचा और जांच शुरू हो गई। सर्विलांस की मदद से पुलिस दोनों सहेलियों को बनारस से बरामद कर यहां लाई।

एक साथ रहने की जिद पड़ अड़ीं

यह भी पढ़ें -  स्कूली बच्चियों से स्कूल ड्रेस ले जाकर कराया जा रहा था दुष्कर्म अश्लील फोटो वीडियो भी बना रहे थे पुलिस ने किया सेक्स रैकेट का भंडाफोड़

पुलिस दोनों युवतियों को खोजकर वापस हरिद्वार लाई। सहेलियों ने पुलिस को बताया कि वह दोनों ताउम्र साथ रहना चाहती हैं। एक-दूजे के साथ रहने के खातिर वह दोनों शादी भी नहीं करना चाहती हैं। उनकी बातें सुन पुलिस कर्मी और परिजन दंग रह गए।

इस शर्त पर गईं परिजनों के साथ

तमाम कोशिशों के बाद आखिरकार पुलिस ने दोनों सहेलियों को समझा दिया। युवतियों ने शर्त रखी कि वह अपने परिवार के साथ तो रहेंगे, लेकिन आपस में मिलते रहेंगे। उन्हें मिलने से परिजन रोक नहीं सकते हैं। वह दोनों सशर्त परिजनों के साथ गईं। एक युवती को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। दूसरी को ले जाने के लिए बिहार से उनके परिजन हरिद्वार आ रहे हैं

Advertisement