शाबाश DM सोनिका, चंद्रबनी में मंदिर की दीवार के नाम पर कब्जा, 24 घंटे के अंदर बड़ा एक्शन, सब ओर हो रही तारीफ

खबर शेयर करें -





देहरादून में भूमाफियाओं ने नाक में दम कर रखा है। लेकिन चंद्रबदनी से एक ऐसा मामला सामने आया है जहां पैर जमाने की कोशिश कर रहे भूमाफिया पर प्रशासन ने 24 घंटे के अंदर ही बड़ा एक्शन लिया है। इस घटना के बाद कई भू माफियाओं के पास ये संदेश भी जाएगा कि चाहे भूमाफिया कितनी भी कोशिश कर लें लेकिन प्रशासन इन्हें अपने मंसूबों में कामयाब नहीं होने देंगे।

ताजा मामला चंद्रबनी का है जहां मंदिर की दीवार के नाम पर जंगल कब्जा करके बेचने में लगे भूमाफिया पर प्रशासन ने 24 घंटे के भीतर बड़ा एक्शन लिया है। यहां के लोगों ने इसका विरोध भी किया लेकिन भू माफिया के साथ यहां के पंडित भी शामिल रहे। इतना ही नहीं एक प्रेस कांफ्रेंस करके गांव के लोगों पर ही भू माफिया ने आरोप लगवा दिए। जिसके बाद गांव के लोगों ने भूमाफिया को मानहानि का नोटिस भेजा है।

यह भी पढ़ें -  kedarnath जाने का कर रहे हैं प्लान, तो इन बातों का रखें ध्यान, वरना हो जाएगी मुश्किल


डीएम, नगर आयुक्त और तहसीलदार की सराहना

वहीं इस बात की जानकारी जैसे ही प्रशासन को लगी टीम ने तत्पता दिखाते हुए इस मामले में एक्शन लिया है। जिसके बाद मौक़े पर DM सोनिका के आदेश पर तहसीलदार और नगर आयुक्त की टीम पहुँची तो उन्होंने जंगल की घेराबंदी देख तुरंत ही दीवार गिराने के आदेश दे दिए। प्रशासन की इस कार्रवाई को लेकर पूरे चंद्रबनी क्षेत्र में डीएम सोनिका, नगर आयुक्त गौरव कुमार और तहसीलदार की सराहना हो रही है। वहीं लोगों का ये कहना है कि इसी तात्परता के साथ प्रशासन को काम करना चाहिए।

यह भी पढ़ें -  विधान सभा चुनाव की तैयारी शुरू, निर्वाचन आयोग कर रहा ये काम


पंडित की आड़ में भूमाफिया को मिला था संरक्षण
बता दें कि भूमाफ़िया एक पंडित की आड़ में संरक्षण पाए हुए है, और इसी सिलसिले में दीवार को वैध बताकर अपनी पैरवी करने में जुट गये हैं। लेकिन भूमाफिया के मंसूबों पर प्रशासन की टीम ने जितनी तेजी के साथ पानी फेरा है वो वाकई में काबिले तारीफ है। डीएम सोनिका,नगर आयुक्त और तहसीलदार के इस एक्शन की हर तरफ सराहना हो रही है। स्थानीय लोग उम्मीद कर रहे हैं कि प्रशासन की इसी तरह से एक्टिव मोड में आगे भी काम करता रहे

Advertisement