इस विभाग में 2364 पदों पर होगी भर्ती, स्थानीय लोगों को मिलेगी प्राथमिकता

खबर शेयर करें -

देहरादून- शिक्षा विभाग के कार्यालयों एवं 1946 स्कूलों में आउटसोर्स से 2364 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रखे जाएंगे। शिक्षा सचिव रविनाथ रामन की ओर से इस संबंध में आदेश जारी किया गया है। आदेश में कहा गया है आरडी उपनल के बजाए खुले बाजार व्यवस्था के आधार पर चयनित एजेंसी के माध्यम से कर्मचारियों को रखा जाएगा।

शासनादेश के मुताबिक एक हजार छात्र संख्या से अधिक 11 ईटर कालेजों में 33, पांच सौ से एक हजार छात्र संख्या वाले 62 इंटर कालेजों में

यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी के इस चर्चित स्पा सेंटर में पुलिस ने मारा छापा…

124 पांच सौ से कम छात्र संख्या वाले 1108 इंटर कालेजों में प्रत्येक में एक एक कर्मचारी की तैनाती की जाएगी। इसके अलावा 222 हाईस्कूलों में प्रत्येक में एक-एक एवं 43 उचीकृत स्कूलों में इतने ही चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रखे जाएंगे।

आदेश में कहा गया है कि आउटसोर्स के माध्यम से नियुक्ति में स्थानीय व्यक्तियों को प्राथमिकता दी जाएगी। आउटसोर्स के माध्यम से परिचारक के पद पर नियुक्त कर्मों की प्रतिमाह 15000 रुपये मानदेय दिया जाएगा। आदेश में यह भी कहा गया है कि विद्यालयी शिक्षा महानिदेशालय में चार पद आउटसोर्स के माध्यम से स्वीकृत हैं। इसके अलावा माध्यमिक शिक्षा निदेशालय में छह पद, प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय में पांच पद अकादमिक एवं प्रशिक्षण संस्थान निदेशालय में तीन पद पहले से आउटसोर्स से स्वीकृत है। विभाग में चतुर्थ श्रेणी के कुल 7881 पदों में से खाली 4331] मुत संवर्ग पदों में से 2364 पदों की आउटसोर्स के पदों में बदला गया

Advertisement