कुमाऊं रेजीमेंट के 9 कुमाऊं में सेवारत सैनिक की दर्दनाक मौत

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी। कुमाऊं रेजीमेंट के 9 कुमाऊं में सेवारत सैनिक की दर्दनाक मौत हो गई यहां धारी विकासखंड के पदमपुरी मार्ग पर सड़क से नीचे बसे बमेटा गांव के पुल के गधेरे में मंगलवार की शाम छुट्टी मनाने पहुंचे पांच फौजियों में से एक फौजी गधेरे में नहाते समय डूब गया। साथी फौजी को डूबता देख अन्य साथी भी उसे बचाने के लिए पहुंचे पर डूबे फौजी का पता नहीं चल पाया। साथियों ने जिला प्रशासन और पुलिस को सूचना दी। सूचना पर देर शाम सात बजे धारी, धानाचूली पुलिस, राजस्व पुलिस, एसडीआरएफ और फायर की टीम मौके पर पहुंची। एसडीआरएफ ने गधेरे में डूबे फौजी को खोजने के लिए सर्च अभियान चलाया पर अंधेरे होने से पता नहीं चल पाया। टीम बुधवार को फिर से फौजी की तलाश करेगी। धारी एसडीएम केएन गोस्वामी ने बताया कि मंगलवार की शाम विनोद सिंह पुत्र देवेंद्र सिंह निवासी देवलचौड़ हल्द्वानी ने जिला प्रशासन को घटना सूचना दी थी। उन्होंने बताया था कि बुधवार की शाम वह अपने दोस्त हिमांशु देफौटिया पुत्र पुष्कर देफौटिया निवासी बागेश्वर हाल निवासी कुसुमेखेड़ा हल्द्वानी, प्रदीप नेगी पुत्र नंदन सिंह निवासी सोमेश्वर अल्मोड़ा, आकाश बिष्ट पुत्र लाल सिंह निवासी शेरपुर देहरादून, चंदन सिंह निवासी मानपुर वेस्ट हल्द्वानी के साथ गधेरे में नहा रहे थे। तभी अचानक नहाते समय हिमांशु देफौटिया पानी में डूबने लगा तो उसे बचाने के लिए हम सभी लोग उसे बचाने के लिए आए। लेकिन पानी अधिक होने से हिमांशु का पता नहीं लग पाया। विनोद ने बताया कि वह और उसके सभी साथी कुमाऊं रेजीमेंट के नाइन कुमाऊं की यूनिट है तैनात है। घटना के बाद पुलिस ने डूबे हुए युवक के परिजनों को सूचना दे दी है। स्थानीय लोगों ने बताया कि गधेरे में नहा रहे सभी युवकों से स्थानीय लोगों ने नहाने से मना किया था। लेकिन हिमांशु नहीं माना और वह नहाते समय डूब गया। स्थानीय लोगों ने कहा कि गधेरे और नदी में नहाते समय पूर्व में भी लोगों की मौत हो चुकी है। घटना स्थल पर धारी चौकी इंचार्ज अरुण राणा, धानाचूली चौकी प्रभारी विजय कुमार, विनोद बिष्ट आदि मौजूद रहे।

Advertisement