शौच के लिए खेड़ा टिपरीधार पर गए थे मजदूर, खाई में गिरने से मौत

खबर शेयर करें -

सीमांत तहसील क्षेत्र के निमगा गांव में पैर फिसलने के कारण दो मजदूर 300 मीटर गहरी खाई में गिर गए। एक मजदूर की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक मजदूर ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।


सहारनपुर निवासी दो मजदूर सीमांत तहसील क्षेत्र के निमगा गांव में हादसे का शिकार हो गए। मजदूर पैर फिसलने के कारण 300 मीटर गहरी खाई में जा गिरे। इस हादसे में एक की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि एक मजदूर ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। बताया जा रहा है कि ये हादसा तब हुआ जब दोनों मजदूर शौच के लिए जा रहे थे।

यह भी पढ़ें -  पूर्व दर्जा राज्यमंत्री हरीश पनेरू ने सीएम को लिखा पत्र, जान का खतरा


मिली जानकारी के मुताबिक त्यूणी क्षेत्र में कथियाण-दारागढ़ मोटर मार्ग से निमगा कैराड़ लिंक रोड के डामरीकरण का काम किया जा रहा है। डामरीकरण का काम कर रहे दो मजदूर शनिवार शाम शौच के लिए खेड़ा टिपरीधार पर गए थे। लेकिन शौच के दौरान दोनों का पैर फिसलने के कारण दोनों गहरी खाई में जा गिरे।

यह भी पढ़ें -  लोकसभा चुनाव 2024: ऋषिकेश पहुंच पीएम मोदी ने की जनसभा शुरू, बड़ी संख्या में पहुंचे कार्यकर्ता


घटना की जानकारी निगमा गांव के ग्राम प्रहरी जयलाल ने पुलिस को दी। सूचना पर एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और रेस्क्यू अभियान शुरू किया। राजस्व उप निरीक्षक चिल्हाड़ पीएस चौहान के मुताबिक एक मजदूर खाई में मृत मिला। जबकि दूसरा मजदूर गंभीर रूप से घायल था। मजदूर को घायलावस्था में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र त्यूणी लाया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

Advertisement