महिला को मौत के घाट उतारने वाले आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

खबर शेयर करें -

रुद्रप्रयाग। केदारघाटी के गुप्तकाशी के निकट देवर गांव में महिला को पत्थरों से कुचलकर मौत के घाट उतारने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपी ने महिला के सिर और अन्य हिस्सों में पत्थरों से अनेक वार किये थे, जिस कारण महिला की मौके पर ही मौत हो गई थी और आरोपी घटना को अंजाम देकर फरार हो गया था। महिला के परिजनों की ओर से पुलिस को तहरीर दी गई थी। वही पुलिस ने घटना के तीन से चार दिन के भीतर आरोपी को पकड़ लिया है। आरोपी महावीर सिंह कठैत रुद्रप्रयाग जनपद के ही बिजराकोट गांव का निवासी है।

बता दें कि विगत 25 अप्रैल को गुप्तकाशी के निकट देवर गांव की नीलम चैहान रोज की तरह निकटवर्ती जंगल में घास लेने गई थी। जब महिला देर सांय तक घर नहीं पहुंची तो महिला की खोजबीन शुरू हो गई। इस बीच परिजन जब जंगल में गए तो एक महिला अचेत अवस्था में पड़ी थी और महिला के हाथ, पैर, सिर और चेहरे पर गंभीर चोट के निशान थे। महिला के पति संदीप चौहान ने अपनी पत्नी की पहचान की। पहले यह प्रतीत हुआ कि महिला को किसी जंगली जानवर ने नुकसान पहुंचाया है, लेकिन पीएम रिपोर्ट से खुलासा हुआ कि महिला के सिर में गंभीर चोट लगने और अत्यधिक खून बहने से मौत हुई है। विगत 27 अप्रैल को महिला के मायके पक्ष की ओर से गुप्तकाशी थाने में महिला की मौत के बारे में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया गया। पुलिस विवेचना के दौरान यह पता चला कि उक्त गांव में महावीर नाम का व्यक्ति खच्चर हांकने का कार्य करता था और घटना के बाद से वह लापता चल रहा था। काफी खोजबीन के बाद आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा। आरोपी ने पुलिस को बताया कि घटना के दिन महिला जंगल में अकेली थी और वह उसे अपने झांसे में लेकर जोर-जबरदस्ती कर रहा था। जब महिला ने इसका विरोध किया तो आरोपी ने उसके सिर पर पत्थर से हमला करने के साथ ही गला घोंट दिया, जिस कारण महिला की मौके पर ही मौत हो गई और आरोपी ने अपने खून से सने कपड़ों को जंगल में छुपा दिया और वहां से फरार हो गया। फरार आरोपी की पुलिस लगातार तलाश कर रही थी। आरोपी को ढूंढ़ने वाली पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक डाॅ विशाखा ने ढाई हजार का नगद इनाम दिया। पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग डाॅ बिशाखा भदाणे ने बताया कि घटना के बाद से लगातार आरोपी की खोजबीन की जा रही थी। तीन से चार दिन के भीतर आरोपी को पकड़ा गया है। आरोपी ने महिला का गला घोंटकर और पत्थरों से हमला करके मौत के घाट उतारा था। आरोपी गांव में जनवरी माह से रह रहा था और खच्चर हांकने का कार्य करता था

Advertisement
यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी: 52 दिनों बाद वहीं मिला भाष्कर का शव… जहां वो अंतिम बार CCTV में आया था नजर