अधिकारी के जज्बे को सलाम, पेट मे गोली लगने के बाद भी फहराया तिरंगा और गाया राष्ट्रगान

खबर शेयर करें -

गणतंत्र दिवस पर राजधानी देहरादून में सुरक्षाकर्मी की बड़ी लापरवाही देखने को मिली। सुरक्षाकर्मी ने ध्वजारोहण के समय गोली चला दी। गोली सीधे शुगर मिल के अधिशासी निदेशक को जा लगी। लेकिन घायल होने के बाद भी उन्होंने तिरंगा फहराया और राष्ट्रगान गाने के बाद कर्मचारियों को संविधान के प्रति शपथ की दिलाई। फिर हॉस्पिटल में जाकर इलाज कराया।


सुरक्षाकर्मी की लापरवाही से अधिकारी को लगा छर्रा
डोईवाला शुगर मिल में 26 जनवरी की सुबह झंडारोहण के समय एक सुरक्षा कर्मी की बड़ी लापरवाही देखने को मिली। यहां सुरक्षाकर्मी द्वारा झंडारोहण के समय बंदूक से गोली चला दी और गोली के छर्रे सीधे शुगर मिल के अधिशासी निदेशक दिनेश प्रताप सिंह के पेट और हाथ में जा लगे।

यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी- मंडी सचिव के निर्देश पर सचल दल ने पकड़े वाहन, की गई यह कार्रवाई

लेकिन अधिकारी का देश प्रेम का जज्बा देखकर हर कोई हैरान रह गया। पेट और हाथ में गोली लगने के बाद भी उन्होंने पहले तिरंगा फहराया और उसके बाद राष्ट्रगान भी गाया। इसके साथ ही कर्मचारियों को संविधान के प्रति शपथ भी दिलाई और उसके बाद जाकर अपना इलाज करवाया।

सुरक्षा कर्मचारी को किया गया निलंबित
पेट में लगे गोली के छर्रे को निकलवाने के बाद उन्होंने पूरे मामले को लेकर मिल प्रशासन टीम की बैठक बुलाई और सीसीटीवी कैमरे चेक किए गए। जिसमें सुरक्षा कर्मी की लापरवाही सामने आई। जिसके बाद कर्मचारी को निलंबित कर दिया है और आरोपी के खिलाफ एक जांच बैठा दी गई है।

यह भी पढ़ें -  सड़क हादसे में घायल 2 युवकों ने तोड़ा दम,परिवारों में मचा मातम

ध्वजारोहण के बाद हर्ष फायरिंग की है परंपरा
अधिशासी निदेशक ने बताया कि शुगर मिल में पहले से ही ध्वजारोहण के बाद हर्ष फायरिंग की परंपरा चली आ रही है। इसी के चलते कर्मचारी ने हर्ष फायरिंग की थी। उन्होंने बताया कि इस परंपरा को आगे से खत्म किया जाएगा। ताकि आगे से कोई हादसा ना हो सके।

Advertisement