प्रेग्नेंट हुई 16 वर्षीय बेटी तो आगबबूला हुआ पिता, कर डाली 61 साल के बुजुर्ग की हत्या

खबर शेयर करें -

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई यहाँ 16 वर्षीय लड़की से अवैध संबंध होने के शक में 60 वर्षीय बुजुर्ग की हत्या कर दी गई। इस घटना के बाद जिले में हड़कंप मच गया है।

मृतक की स्वयं की 7 बेटियां हैं। मृतक की पत्नी की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर पुलिस कार्रवाई में जुट गई है।

दरअसल, जब गर्भवती लड़की से पेट में पलने वाले बच्चे के बाप का नाम पूछा गया, तो उसने वृद्ध का नाम बता दिया। फिर लड़की के पिता ने कुल्हाड़ी से वृद्ध पर हमला कर दिया। गले में कुल्हाड़ी लगने से वह चोटिल हो गया। आनन-फानन में उसे झांसी मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया, जहां उपचार के चलते शुक्रवार को वृद्ध की मौत हो गई। मेडिकल कॉलेज चौकी पुलिस ने पोस्टमॉर्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। रामआसरे कुशवाहा हमीरपुर के जलालपुर थाना इलाके के न्यूलीवासा गांव के रहने वाले थे। उनके दामाद बृजेंद्र कुशवाहा ने बताया, मेरे ससुर रामआसरे खेती किसानी करते थे। क्षेत्र की 16 वर्षीय एक लड़की गर्भवती हो गई। घरवालों ने एक जनवरी को उसका गर्भपात करा दिया।

यह भी पढ़ें -  नेशनलिस्ट यूनियन जर्नलिस्ट पौड़ी में जसपाल नेगी जिला अध्यक्ष एवं रतनमणि भट्ट बने महासचिव

आरोप लगाया कि बच्ची के पेट में पल रहा बच्चा रामआसरे का था। जब हम लोगों को पता चला, तो न्यूलीवासा गांव पहुंचे। वहां अपने ससुर से बात की। उन्होंने स्पष्ट मना कर दिया कि बच्चा उनका नहीं है। तब पुलिस में शिकायत करने के लिए कहा तो इंकार कर दिया। साथ ही पंचायत बुलाने से भी इंकार कर दिया। न ससुर ने शिकायत दी और न ही लड़की के परिवार ने। दूसरे दामाद अरविंद ने बताया, अफवाह के बाद लड़की के घर वाले मेरे ससुर से रंजिश रखने लगे। 21 जनवरी की सुबह ससुर रामआसरे अपने घर के बाहर खड़े थे। तभी लड़की का पिता कुल्हाड़ी लेकर आया तथा उनके ऊपर हमला कर दिया। उसने कुल्हाड़ी से गर्दन पर हमला किया। बचाने आई सास रामश्री से भी मारपीट की। चोटिल होने की वजह से ससुर जमीन पर गिर गए। पहले उनको उपचार के लिए सरीला और फिर उरई ले गए। वहां से चिकित्सकों ने झांसी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। जहां उपचार के चलते ससुर ने शुक्रवार को दम तोड़ दिया।

यह भी पढ़ें -  अजय भट्ट ने हल्द्वानी में हिंसा में घायल मीडिया कर्मी और पुलिस कर्मियों को जाना हाल

रामआसरे की 8 बेटियां हैं। इसमें से वह 6 बेटियों की शादी कर चुके थे। जबकि दो बेटी अभी अविवाहित हैं। दामाद ने बताया कि पुलिस ने दोषियों के खिलाफ ठोस कार्रवाई नहीं की। घटना के बाद से उनका रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं, जलालपुर थाना प्रभारी ने बताया कि पत्नी की शिकायत पर दोषियों के खिलाफ पहले से ही मुकदमा दर्ज है। रामआसरे की मौत होने पर अब हत्या से संबंधित धारा जोड़ी जाएगी। पूरे मामले की तहकीकात की जा रही है

Advertisement