एलबीएस राजकीय महाविद्यालय एबीवीपी छात्र संघ के अधिकृत प्रत्याशी कार्तिक रजवार ने प्रेस वार्ता कर अपने ऊपर लगाए गए आरोपों को बताया निराधार

खबर शेयर करें -

हल्दूचौड़।
लाल बहादुर शास्त्री राजकीय महाविद्यालय में एबीवीपी के छात्र संघ के अधिकृत प्रत्याशी कार्तिक रजवार ने हल्दूचौड़ में एक निजी प्रतिष्ठान में प्रेस वार्ता कर पत्रकारों के सम्मुख विभिन्न साक्ष्य प्रस्तुत करें।
इस दौरान उन्होंने बताया कि उन पर सोशल मीडिया पर तमाम प्रकार के आरोप लगाए जा रहे है व भ्रामक प्रचार किया जा रहे हैं व चुनाव के बाद अराजक तत्वों पर कानूनी कार्यवाही करेंगे।
उन्होंने बताया कि उन पर लगाए गए आरोपो पर महाविद्यालय छात्रसंघ शिकायत निवारण प्रकोष्ठ से जब इसका जवाब मांगा गया तो वर्तमान में एनएसयूआई के छात्र संघ प्रत्याशी तनुजा सामंत व पूर्व में अध्यक्ष प्रत्याशी रहे राजा धामी उन्हें फेल करवाने से लेकर अन्य कोई भी साक्ष्य वह उपलब्ध नहीं करा पाए ।
इसके साथ-साथ कार्तिक ने साक्ष्य प्रस्तुत करते हुए पत्रकारों को बताया कि अध्यक्ष पद के प्रत्याशी राजा धामी पर लालकुआं कोतवाली सहित तमाम कोतवालियों में महाविद्यालय में दाखिले से पूर्व ही वर्ष 2021,2019 से लेकर वर्तमान तक कई आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं व छात्रसंघ संविधान के अनुरूप आपराधिक पृष्ठभूमि के लोगों का चुनाव लड़ना पूर्ण रूप से वर्जित है व बताया कि छात्रसंघ की राजनीति करते हुए कुछ छात्र नेता यह भी भूल जाते हैं कि वह पहले छात्र हैं बाद में छात्र नेता व इनका फेल होना व तनुजा सामंत का मैदान में आना एक सोची समझी रणनीति के तहत किया गया है।
उन्होंने छात्र-छात्राओं से निवेदन किया कि सोशल मीडिया पर फैल रहे दुष्प्रचार से दूर रहकर उनके सुख-दुख में खड़े रहने वाले उनके भाई कार्तिक परिवार को भारी मतों से विजय बनाएं।

इस दौरान छात्र नेत्री नेहा बोरा ने कहा कि “अपनी बहनों के सम्मान में कार्तिक रजवार मैदान में है” व कार्तिक विगत कई वर्षों से महाविद्यालय की छात्र-छात्राओं के सुख-दुख का साथी रहा है व वर्तमान में अध्यक्ष प्रत्याशी जो केवल महिला होने के नाम पर वोट मांग रही हैं व उनके सगे भाई विजय सामंत विगत वर्ष छात्र संघ के अध्यक्ष थे परंतु इस दौरान उन्होंने महिलाओं के साथ कई बार दुर्व्यवहार भी किया व महाविद्यालय में महिलाओं के प्रति असुरक्षा का माहौल बना रहा ।
आए दिन अराजक तत्व महाविद्यालय में आकर गुंडागर्दी व लड़कियों से छेड़खानी किया करते थे ।
पुनः एक परिवार के लोगों को बढ़ावा देने हेतु सोची समझी रणनीति के तहत महिला प्रत्याशी होने का दावा किया जा रहा है।
जबकि उसके विपरीत कार्तिक के समर्थकों व कार्तिक पर लगातार जानलेवा हमले हो रहे हैं जिस पर ना पुलिस प्रशासन न ही महाविद्यालय प्रशासन कोई कार्रवाई करने को तैयार है ।
उन्होंने निवेदन किया कि छात्र-छात्राओं को संघर्षशील व जुझारू प्रत्याशी कार्तिक रजवार को वोट देकर महाविद्यालय में सकारात्मक राजनीति का परचम बुलंद करना चाहिए ।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड सरकार का आगनबाडी कार्यकत्रियों के लिए बड़ा तोहफा

मुझ पर लगाए गए सभी आरोप निराधार हैं विपक्षी मुझ पर लगे आरोपों के तथ्य प्रस्तुत करने में असमर्थ हैं विपक्षी जिस महाविद्यालय से चुनाव लड़ने की कोई सोच रहे हैं उसी को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।
मेरे अध्यक्ष बनने के बाद महाविद्यालय में अराजकता करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही महाविद्यालय छात्र-छात्राओं के लिए एक सुरक्षित घर जैसा माहौल बनाएंगे।

  • कार्तिक चंद्र रजवार
    अध्यक्ष प्रत्याशी
    एबीवीपी
    हम अपने कार्यों व पूर्व में किए गए संघर्ष के बूते महाविद्यालय में चुनाव में उतरे हैं व छात्र- छात्राओं से यह निवेदन करना चाहेंगे कि हमारे कार्यो को देखकर ही वोट करे।
    हम छात्र हितो के लिए संघर्ष करते आये है व करते रहेंगे।
  • नेहा बोरा
    छात्र नेत्री
    लाल बहादुर शास्त्री राजकीय महाविद्यालय हल्दूचौड़।
यह भी पढ़ें -  एएसपी सर्वेश पंवार नव नियुक्त पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रशांत कुमार ने जानी ग्रामीण क्षेत्रों की समस्याऐं पंचायत प्रतिनिधियों के संग किया संवाद

विपक्षी दल की अध्यक्ष प्रत्याशी के बड़े भाई मेरे कार्यकाल में अध्यक्ष रहे परंतु पूरे कार्यकाल में महाविद्यालय में नहीं दिखे व छात्र संघ के द्वारा किए जा रहे सकारात्मक कार्यों में भी वह कहीं नजर नहीं आए।
साथ ही लगातार उनके द्वारा अराजक तत्वों के साथ महाविद्यालय में आकर माहौल खराब करने का प्रयास भी लगातार किया गया।
हम पहले भी छात्र हितो की लड़ाई लड़ रहे थे आगे भी लड़ते रहेंगे ।
-पल्लवी बोहरा
पूर्व छात्रा उपाध्यक्ष
लाल बहादुर शास्त्री महाविद्यालय

Advertisement