रिवॉल्वर और बंदूक के लाइसेंस बनवाने के लिए सपा नेता ने किया ऐसा काम, अब सलाखाें के पीछे पहुंचा

खबर शेयर करें -

पीलीभीत: समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सतनाम सिंह सत्ता को फर्जी पते पर दो शस्त्र लाइसेंस जारी करा लेने और फिर उन्हें अपने नए पते के आधार पर ट्रांसफर कराने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया गया है।

शहर में एकता नगर कालोनी निवासी सतनाम सिंह सत्ता का मूल निवास गजरौला थाना क्षेत्र के गांव पौर खास है। आरोप है कि उन्होंने वर्ष 2007 में तत्कालीन जिला शाहजहांपुर के थाना सेहरामऊ उत्तरी के गांव प्रसादपुर में अपना निवास दर्शाकर डबल बैरल बंदूक और रिवाल्वर के लाइसेंस शाहजहांपुर जिले से जारी करा लिए। इसके बाद दोनों लाइसेंसों को अपने नए पते शहर की एकता नगर कालोनी के पते पर धोखाधड़ी करके वर्ष 2019 में स्थानांतरित कराकर अभिलेखों में दर्ज करा लिए।
शिकायत मिलने पर पुलिस ने की जांच
इस मामले की शिकायत मिलने पर पुलिस ने जांच की। जांच में पाया गया कि वह प्रसादपुर गांव में कभी नहीं रहे। वहां का पता फर्जी दर्शाया गया। इस पर गजरौला थाने में वरिष्ठ उप निरीक्षक मो. आरिफ ने सतनाम सिंह के विरुद्ध धोखाधड़ी करने की प्राथमिकी लिखाई।

यह भी पढ़ें -  लालकुआं में होल्यारों ने नदी जमुना के तीर कदम चढ़ी कान्हा बजाए गयो बांसुरिया सहित अनेक गीतों से बांधा शमां

आरोपित ने धोखाधड़ी करके फर्जी पता दर्शाकर शाहजहांपुर जिले से दो शस्त्र लाइसेंस जारी कराए थे। बाद में दोनों शस्त्र लाइसेंसों को अपने नए पते पर स्थानांतरित कराकर अभिलेखों में दर्ज कराए। आरोपित पर विभिन्न थानों में पहले से ही अनेक आपराधिक अभियोग पंजीकृत है। आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। दीपक चतुर्वेदी सीओ सिटी

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंडनिकाय चुनाव ब्रेकिंग। इस तिथि तक नगर निकाय चुनाव की अधिसूचना संभव, तैयारी में जुटी सरकार, ओबीसी आरक्षण को लेकर……..


सतनाम सिंह सत्ता पहले समाजवादी पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य रहे हैं। संगठन में निष्क्रियता के चलते बाद में उन्हें हटा दिया गया था। फर्जी पते पर शस्त्र लाइसेंस जारी करने के मामले में प्राथमिकी लिखे जाने की फिलहाल कोई जानकारी नहीं है। जगदेव सिह जग्गा, जिलाध्यक्ष, सपा

Advertisement