हाईवे किनारे बेहोशी की हालत में मिले उत्तराखंड निवासी युवक और महिला की देर रात उपचार के दौरान मेरठ में हुई मौत

खबर शेयर करें -

रुद्रपुर। दिल्ली-लखनऊ नेशनल हाईवे किनारे बेहोशी की हालत में पड़े मिले उत्तराखंड के रुद्रपुर निवासी युवक और महिला की देर रात उपचार के दौरान मेरठ के अस्पताल में मौत हो गई। दोनों तीन दिन पहले ही अपने घरों से लापता हुए थे और गढ़मुक्तेश्वर पहुंच कर जहर खाया था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार एक युवक और महिला शनिवार देर शाम दिल्ली-लखनऊ हाईवे किनारे एक खोखे के पास बदहवास हालत में बेहोश पड़े हुए थे। राहगीरों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को पहले स्थानीय सीएचसी में भर्ती कराया। जिसके बाद चिकित्सकों ने जहरीला पदार्थ खाने की आशंका जाहिर करते हुए उन्हें तत्काल मेरठ अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। मेरठ अस्पताल में उपचार के दौरान शनिवार रात करीब दस बजे महिला ने दम तोड़ दिया। कुछ ही देर बाद युवक की भी मौत हो गई। तलाशी के दौरान मिले दस्तावेजों के आधार पर युवक की पहचान बबलू (20) पुत्र रामलाल और महिला की पहचान रेखा (32) पत्नी तिजेंद्र सैनी दोनों निवासी दुर्गा कॉलोनी भूरारानी रुद्रपुर जिला ऊधमिसंह नगर के रूप में हुई। दोनों एक दूसरे के पड़ोसी थे। पुलिस के अनुसार रेखा शादीशुदा और तीन बच्चों की मां थी और बबलू अभी अविवाहित था। इंस्पेक्टर महेंद्र सिंह ने बताया कि रविवार देर शाम तक भी मृतकों का कोई परिजन घटना के संबंध में कोतवाली नहीं आया था।

Advertisement
यह भी पढ़ें -  पूर्व विधायक नवीन दुमका की माताजी के निधन से क्षेत्र में शोक की लहर