बालिका इंटर कालेज गौचर में छात्राओं के चिल्लाने व रोने की आवाज से हुए सब भौचक्के।

खबर शेयर करें -


गौचर (चमोली)– राजकीय बालिका इंटर कालेज गौचर में मंगलवार को उस समय अजीबो-गरीब स्थिति पैदा हो गई जब विद्यालय की सभी बालिकाएं जोर जोर से चिल्लाने लगी। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए स्कूल की छुट्टी करनी पड़ी। घटना मंगलवार 11 बजे के आसपास की बताई जा रही है। कक्षा,11 की अध्यापिका के अनुसार जैसी वह क्लास रूम से बाहर निकल रही थी तभी एक बालिका जोर जोर से चिल्लाने लगी देखते ही देखते क्लास की अन्य बालिकाएं भी चिल्लाने लगी।


इसके बाद पूरी स्कूल की छात्राएं चिल्लाने लगी। बताया जा रहा है कि आनन फानन अभिभावकों को घटना की सूचना दी गई। इस घटना को देखकर अभिभावक भी भौंचक्के रह गए। अभिभावकों का कहना है कि वे अपनी बालिकाओं को बेहोशी की हालत में घर ले गए। कई बालिकाओं को रास्ते में रोते बिलखते तथा कइयों को बेहोशी की हालत में देखा गया। घटना की सूचना आग की तरह क्षेत्र में फैल गई। सभी लोग उल्टे पांव स्कूल की ओर भागे। बताया जा रहा है कि इससे पहले भी कई बार कुछ बालिकाएं कक्षा में बेहोश हुई हैं। लेकिन पूरी स्कूल की छात्राओं के एक साथ चिल्लाने की यह पहली घटना है।

यह भी पढ़ें -  रघुपति राघव राजा राम से गूंजा Ram Mandir,खुशी से आंखे हुई नम


कई लोगों का कहना है कि काफी वर्षों पहले इस स्कूल में एक छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर दी थी। घटना की गंभीरता को देखते हुए विद्यालय की प्रधानाचार्या सुमन ध्यानी ने अपने उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया है। इस अवसर पर पीटीए अध्यक्ष दिलवर चौहान ने कहा कि बार-बार इस प्रकार की घटना की पुनरावृत्ति ठीक नहीं है, इसकी तह में जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा शीघ्र अभिभावक संघ की बैठक बुलाकर सबकी राय लेकर घरेलू उपायों पर भी विचार किया जाएगा। मंगलवार की इस घटना ने सबको झकझोर कर रख दिया है।

यह भी पढ़ें -  नैनीताल जिले में कोरोना कर्फ्यू का तीसरा चरण हुआ शुरू, डीएम ने दिए दिशा निर्देश

हालांकि विद्यालय परिवार इस घटना को भूत प्रेत से जोड़कर मानने को तैयार नहीं है। लेकिन अभिभावकों की चिंता ने उनका ध्यान इस ओर आकर्षित कर दिया है

Advertisement