करवाचौथ में लगाने गई थी मेहंदी . तीन किशोरी हो गई उड़न छू.उत्तराखंड पुलिस ने किया बरामद ll

खबर शेयर करें -

उत्तराखंड पुलिस की त्वरित कार्रवाई से तीन नाबालिक किशोरियों से बड़ा हादसा होने से बचा रेलवे सुरक्षा बल प्रयागराज (उत्तर प्रदेश) के सहयोग से उन तीनों किशोरियों को 48 घंटे के अंदर सकुशल बरामद कर लिया गया।
घटनाक्रम के अनुसार इमरान पुत्र अखलाक निवासी थलवाल मार्केट ढलवाला थाना मुनी की रेती जनपद हरिद्वार द्वारा थाना मुनि की रेती नई सूचना दी की उसकी नाबालिग पुत्री दीपा(काल्पनिक नाम) उम्र 14 वर्ष अपनी बेस्ट फ्रेंड रिया (काल्पनिक नाम) पुत्री अनिल कुमार निवासी न्यू चंदेश्वर नगर ऋषिकेश उम्र 15 वर्ष, शिखा (काल्पनिक नाम) पुत्री मदनपाल निवासी शीशमझाड़ी थाना मुनि की रेती उम्र 15 वर्ष जो तीनों एक साथ दसवीं कक्षा में पढ़ती हैं के साथ घर से थलवाल मार्केट में करवाचौथ के दिन महिलाओं के हाथों में मेहंदी लगाने के लिए गई थी। किंतु देर रात तक घर वापस नहीं आई है जिन्हे ढूंढने का काफी प्रयास किया किंतु तीनों किशोरियों का कुछ पता नहीं चल पाया है। उक्त तीनों जीजीआईसी ऋषिकेश की छात्रा हैं।

थाना मुनि की रेती क्षेत्रांतर्गत तीन नाबालिग किशोरियों के गुमशुदा होने के संबंध में तत्काल उच्चाधिकारियों के निर्देश में टीम गठित कर पता चला कि यह तीनों किशोरी रेलवे स्टेशन ऋषिकेश की ओर गई थी। जो ट्रेन में बैठकर प्रयागराज की ओर जा रही हैं जिस पर तत्काल RPF कंट्रोल रूम प्रयागराज (उत्तर प्रदेश) एवं प्रभारी निरीक्षक थाना राजकीय रेलवे पुलिस प्रयागराज को उक्त संबंध में सूचना व जानकारी प्रेषित करते हुए गुमशुदा तीनो के फोटोग्राफ व्हाट्सएप के माध्यम से भेजे गए व मामले की गंभीरता से अवगत कराकर तलाश हेतु बताया गया व एक पुलिस टीम को तत्काल प्रयागराज हेतु रवाना किया गया। थाना मुनी की रेती पुलिस द्वारा त्वरित कार्यवाही से तीनों नाबालिग किशोरियों को राजकीय रेलवे पुलिस प्रयागराज उत्तर प्रदेश से सकुशल बरामद किया गया। यदि पुलिस को देर से सूचना मिलती तो इन किशोरियों के साथ कोई भी अप्रिय घटना हो सकती थी सब कुशल बरामद की पर किशोरियों के परिजनों उत्तराखंड पुलिस का आभार देता है।।

Advertisement
यह भी पढ़ें -  ज्वेलरी शोरूम डकैती कांड : पुलिस ने किया मुख्य आरोपी को गिरफ्तार, दो लाख का इनाम था घोषित