जानिए कब तक आएगा प्रदेश में मानसून,पढ़े खबर

खबर शेयर करें -

उत्तराखंड में दक्षिणी पश्चिमी मानसून को लेकर मौसम विभाग ने बड़ी अपडेट दी है। राज्य में इस साल मानसून अपने नियत समय के आसपास आने के साथ ही सामान्य से अधिक बरसने की संभावना है वहीं दूसरी ओर प्रदेश में अगले कुछ दिनों में प्री मानसून शावर की एक्टिविटी शुरू होने के आसार भी है। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक मानसून की दस्तक से 10 दिन पहले प्रदेश भर में मौसम का मिजाज बदल जाएगा।

मानसून का इंतजार हर साल रहता है। लेकिन, इस बार भी मानसून अपने तय समय से दो दिन देरी से चल रहा है। माना जा रहा है कि उत्तर भारत में प्रवेश करते ही मानसून की रफ्तार बढ़ जाएगी।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में आदि कैलाश और ओम पर्वत की यात्रा शुरू, ‘बम-बम भोले’ के जयकारों के साथ 49 यात्री रवाना

मानसून केरल, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश से आगे बढ़ रहा है और अगले कुछ दिनों में मध्य प्रदेश में दस्तक देगा। उत्तराखंड में इस बार मानसून के 25 जून के बाद पहुंचने की उम्मीद है। उत्तराखंड में मानसून 20 से 25 जून के बीच दस्तक देता है। अभी तक मानसून अपने सामान्य समय से लगभग दो दिन पीछे चल रहा है। हालांकि, उत्तर भारत की ओर से रुख करने पर इसकी गति तेज हो सकती है।

यह भी पढ़ें -  राहुल गांधी रायबरेली से लडेंगे चुनाव, सोनिया गांधी के प्रतिनिधि केएल शर्मा को अमेठी से मैदान में उतारा


उत्तराखंड में 25 जून को दस्तक देगा मानसून उत्तराखंड मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार, प्रदेश में मानसून के 25 जून के आसपास पहुंचने की उम्मीद है। उसके बाद प्रदेश में झमाझम बारिश का दौर शुरू हो जाएगा

उन्होंने बताया कि उत्तराखंड में इस बार सामान्य से 10 प्रतिशत अधिक बारिश हो सकती है। एक मार्च से 31 मई तक प्री-मानसून सीजन होता है। इसके बाद एक जून से 30 सितंबर तक मानसून का सीजन माना जाता है। मानसून के दस्तक देने से पहले होने वाली बारिश को प्री-मानसून शावर कहा जाता है।

यह भी पढ़ें -  लालकुआं में कुश्ती (दंगल) में पहले दिन नेपाल के लक्की थापा एवं जम्मू कश्मीर के रिजवान गनी ने मचाया धमाल…………… महिला पहलवानों ने भी लूटी वाह-वाही………

उत्तराखंड में मानसून से पहले एक बार फिर गर्मी मैदान से लेकर पहाड़ तक सताएगी। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है मानसून से पहले प्रदेश भर की गर्मी में सामान्य से तीन से चार डिग्री तक की बढ़ोतरी दर्ज की जा सकती है हालांकि 15 जून से प्री-मानसून की झमाझम बौछार गर्मी से राहत देगी

Advertisement