हल्द्वानी की ग्रेजुएट युवती को दूसरे समुदाय के नवीं पास युवक से हुआ प्यार……….. शादी के लिए एसडीएम कोर्ट हल्द्वानी पहुंचे प्रेमी युगल के सामने इन्होंने काटा बवाल………. प्रेम कहानी में अंततः हुआ यह…

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी की ग्रेजुएट युवती को बनभूलपुरा के नौवीं पास पेंटर से प्यार हो गया। दोनों ने एसडीएम कोर्ट में शादी के लिए आवेदन किया था। गुरुवार शाम दोनों शादी के लिए पहुंचे ही थे कि कायस्थ महासभा के लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस पहुंची और दोनों पक्षों को कोतवाली ले आई। कोतवाली में दो घंटे हाइवोल्टेज ड्राम चला। युवक व युवती ने जब एक-दूसरे से शादी करने के मना किया, तब जाकर लोगों का आक्रोश शांत हुआ।

हिंदू युवती व मुस्लिम युवक के बीच दो साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवती के स्वजन ने विरोध किया। इस पर युवती लड़के के घर रहने लगी थी। पुलिस के अनुसार 18 अप्रैल को दोनों ने एसडीएम कोर्ट में विवाह के लिए आवेदन किया था। जिसके बाद एसडीएम कोर्ट में दोनों के विवाह का नोटिस चस्पा कर दिया गया। कुछ दिन पहले कायस्थ महासभा के लोगों ने नोटिस देखा। लड़की के स्वजन को सूचना दे दी। गुरुवार दोपहर तीन बजे दोनों की शादी होनी थी। तय समय पर जैसे ही युवक व युवती एसडीएम कोर्ट परिसर में पहुंचे तो कायस्थ महासभा के लोग युवती के माता-पिता के साथ पहुंच गए। शादी का विरोध किया। इधर, युवती लड़के के साथ शादी करने की जिद पर अड़ गई। हंगामाबढ़ा तो कोतवाल उमेश कुमार मलिक टीम के साथ पहुंच गए। शाम पांच बजे दोनों पक्षों के लोग कोतवाली में पहुंचे। जहां पर शाम सात बजे तक हाइवोल्टेज ड्रामा चलता रहा। पुलिस के तमाम प्रयास व लोगों के समझाने पर युवती शादी नहीं करने के लिए राजी हुई। इसके बाद उसे बयान के लिए एसडीएम कोर्ट में पेश किया गया। युवती व युवक ने एक-दूसरे से अलग रहने की बात कही। तब जाकर लोग शांत हुए। कोतवाल उमेश कुमार मलिक ने बताया कि युवती को उसके परिवारजनों को सौंप दिया है।
ग्रेजुएशन कर चुकी युवती बनभूलपुरा के नौवीं पास पेंटर से करने आई थी शादी

यह भी पढ़ें -  राज्य की कारागार में निरूद्ध कैदियों को पैरोल पर किया जाय रिहा

एसडीएम कोर्ट पहुंचते ही कायस्थ महासभा के लोगों ने किया हंगामा, पुलिस पहुंची
निकाह करने का आरोप झूठा

युवती कुछ दिन से युवक के घर में रह रही थी। युवक ने पुलिस को बताया कि वह युवती को अपने संग कुछ दिन पहले बरेली ले गया था। जहां उसे कलमा पढ़ाकर निकाह कर लिया है। पुलिस ने छानबीन की तो यह मामला झूठा निकला।

Advertisement